गोलकीपर जो हार्ट (Joe Hart) ने शुक्रवार को कहा कि फुटबाल विश्व कप के लिए इंग्लैंड (England) की टीम से बाहर होने पर वह बेहद दुखी हैं और इस निराशा को झेलना मुश्किल हो रहा है। उन्होंने कहा कि वह जानते हैं कि वह टीम में किस तरह का योगदान कर सकते थे। इसलिए इस कड़वे सच को पचा पाना और भी मुश्किल हो रहा है।

हार्ट ने इंस्टाग्राम पर लिखा, मैं झूठ नहीं बोलूंगा। मैं टूट गया हूं। मैं जानता हूं कि मैं टीम को क्या दे सकता हूं लेकिन अब तो जो होना है, वह हो गया।

इंग्लैंड के मुख्य कोच गैरेथ साउथगेट (Gareth southgate) ने रूस (Russia) में अगले माह होने वाले विश्व कप (World Cup) के लिए 23 सदस्यीय टीम घोषित की जिसमें हार्ट का नाम नहीं है। बीते तीन बड़े टूर्नामेंट में हार्ट इंग्लैंड के मुख्य गोलकीपर थे।

हार्ट ने लिखा, दो साल तक मुश्किल परिस्थितियों में लगातार कोशिश करने के बाद यह झेलना मुश्किल है। मुझे गर्व है कि मैंने टीम में अपनी जगह बनाने के लिए हर मिनट अपना 100 प्रतिशत दिया। खिलाड़ी यह जानते हैं कि भले ही मैं टीम में ना रहूं लेकिन मैं एक प्रशंसक के रूप में इंग्लैंड की जर्सी पहनकर उन्हें पूरा समर्थन दूंगा।

हाल के दिनों में हार्ट का प्रदर्शन सवालों में रहा है। प्रीमियर लीग में उनका प्रदर्शन निराशाजनक रहा है। कोच साउथगेट ने कहा कि हार्ट को शामिल नहीं करने का फैसला मुश्किल था। उन्होंने कहा कि टीम में नहीं होने का यह अर्थ नहीं है कि हार्ट का अंतर्राष्ट्रीय करियर समाप्त हो गया है।

इस बीच, टीम में शामिल ना होने वाले आर्सेनल के मिडफील्डर जैक विलशेयर ने गुरुवार को कहा कि वह एक वास्तविक प्रभाव डाल सकते थे।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds