इंग्लैंड (England) ने रूस (Russia) में जारी फीफा विश्व कप (FIFA World Cup) के 21वें संस्करण में जीत के साथ शुरुआत करते हुए सोमवार देर रात ग्रुप जी के एक रोमांचक मुकाबले में ट्यूनीशिया (Tunisia) को 2-1 से मात दी।

पिछले विश्व कप में ग्रुप चरण और यूरो 2016 में दूसरे राउंड में बाहर होने वाली इंग्लैंड के लिए इस मैच में कप्तान हैरी केन (Harry Kane) ने दो गोल दागे जबकि ट्यूनीशिय के लिए एकमात्र गोल फेर्जानी सस्सी (ferjani sassi) ने किया। विश्व कप में अपना पहला गोल करने वाले केन एक कप्तान के रूप में इंग्लैंड के लिए खेले सभी मैचों में गोल करने में कामयाब रहे हैं।

 

वोल्गोग्राड ऐरेना (Volgograd Arena) में खेले गए इस मुकबाले में इंग्लैंड की शुरुआत शानदार रही। तीसरे मिनट में मिडफील्डर डैली एली ने बॉक्स में मौजूद जेसे लिंगार्ड (Jesse Lingard) को शानदार पास दिया लेकिन वह अपनी टीम के लिए पहला गोल करने में कामयाब नहीं हो पाए।

इंग्लैंड ने अपनी तेज शुरुआत का फायदा उठाते हुए विपक्षी टीम की डिफेंस पर दबाव बनाया जिसका लाभ उन्हें मैच के 11वें मिनट में मिला। एश्ले यंग (Ashley Young) ने बॉक्स के बीच में बेहतरीन क्रॉस दिया जिसपर डिफेंडर जॉन स्टोन्स (John Stones) ने हेडर लगाया। हालांकि, ट्यूनीशिया के गोलकीपर मौएज हसन (maggie hassan) ने अपनी दाईं ओर कूदकर बेहतरीन बचाव किया और गेंद इंग्लैंड के कप्तान हैरी केन के आगे गिरी जिन्होंने आसानी से गेंद को गोल में डालकर अपनी टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी।

पहला गोल करने के बाद इंग्लैंड ने अपने खेल में तेजी लाई लेकिन 35वें मिनट में डिफेंडर काइल वॉकर बॉक्स में गलती कर बैठे। वॉकर ने मिडफील्डर जिफहरदिने बेन यूसुफ को बॉक्स में कोहनी मारी और ट्यूनीशिया को तोहफे में पेनाल्टी दे दी। फेर्जानी सस्सी ने इस सुनहरे अवसर को जाया न करते हुए मैच में अपनी टीम के लिए पहला गोल दागा।

बराबरी का गोल दागने के साथ ही ट्यूनीशिया इस विश्व कप में गोल दागने वाला पहला अफ्रीकी देश भी बन गया।

जेसे लिंगार्ड को पहला हाफ समाप्त होने से पहले (44वें मिनट) अपनी टीम को बढ़त दिलाने का शानदार मौका मिला लेकिन वह गेंद को गोलपोस्ट पर मार बैठे।

इंग्लैंडे ने दूसरे हाफ में अधिक समय तक गेंद पर नियंत्रण रखा और ट्यूनीशिया के डिफेंस को भेदने का प्रयास किया। हालांकि, ट्यूनीशिया के खिलाड़ियों ने विपक्षी टीम को गोल करने के अधिक मौके नहीं दिए। मैच के 66वें मिनट में जॉर्डन हैंडरसन ने डिफेंडर हैरी मैगुएर को बॉक्स में पास दिया लेकिन मैगुएर गेंद पर सही नियंत्रण नहीं बना सके।

ऐसा प्रतीत हो रहा था कि मैच 1-1 की बराबरी पर समाप्त होगा लेकिन कप्तान हैरी केन ने इंजुरी टाइम (91वें मिनट) में किएरन ट्रिपियर द्वारा लिए गए कॉर्नर किक पर हेडर से गोल करके अपनी टीम को महत्वपूर्ण तीन अंक दिलाए।

इंग्लैंड ग्रुप जी के अपने अगले मुकाबले में रविवार को पनामा से भिड़ेगी जबकि ट्यूनीशिया का सामना शनिवार को बेल्जियम से होगा।

Share

वीडियो