क्रिस गेल और लोकेश राहुल जैसे स्टार बल्लेबाजों से सजी किंग्स इलेवन पंजाब इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में अपने दूसरे घर होल्कर क्रिकेट स्टेडियम में ताश के पत्तों की तरह बिखर गई। रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के गेंदबाजों ने पंजाब के सिर्फ तीन बल्लेबाजों को दहाई के आंकड़े तक पहुंचने दिया और पूरी टीम को 15 ओवरों में 88 रनों पर ही समेट दिया।

पंजाब के लिए सर्वोच्च स्कोर एरॉन फिंच रहे जिन्होंने 23 गेंदों में दो चौके और एक छक्के की मदद से 23 रनों की पारी खेली। उनके अलावा राहुल ने 21 और गेल ने 18 रनों का योगदान दिया। बाकी कोई और बल्लेबाज अपने खाते में दोहरी संख्य दर्ज नहीं करा पाया।

राहुल और गेल ने पंजाब को तेज तो नहीं, लेकिन सधी हुई शुरुआत दी थी। दोनों ने 36 रन जोड़ लिए थे। इसी स्कोर पर पांचवें ओवर की तीसरी गेंद पर तीन विकेट लेने वाले उमेश यादव ने राहुल को अपना पहला शिकार बनाया।

यादव ने अगला शिकार गेल को बनाया। राहुल के जाने के तीन गेंद बाद ही गेल मोहम्मद सिराज के हाथों लपके गए। उनका विकेट 41 के कुल स्कोर पर गिरा। इसी स्कोर पर करूण नायर (1) भी पवेलियन लौट लिए।

यहां से विकेट की पतझड़ चालू हो गई। फिंच ने संघर्ष करने की कोशिश की लेकिन 12वें ओवर की पांचवीं गेंद पर वह विराट कोहली के हाथों सीमा रेखा के पास लपके गए। 78 के कुल स्कोर पर फिंच पंजाब के छठे विकेट के रूप में आउट हुए। अगली गेंद पर रविचंद्रन अश्विन बिना रन बनाए रन आउट हो गए।

अंकित राजपूत (1) के रूप में पंजाब ने अपना आखिरी विकेट खोया। वह भी रन आउट हुए। पंजाब के कुल तीन बल्लेबाज रन आउट हुए। उमेश के अलावा अली, मोहम्मद सिराज, युजवेंद्र चहल, कोलिन डी ग्रांडहोम को एक-एक सफलता मिली।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds