खोए हुए बच्चों की तलाश करने वाले कुत्ते को आमतौर पर सूंघने के लिए कपड़े या इस्तेमाल की हुईं चीज़ें दी जाती हैं। लेकिन यह खुश्बू कैसी होती है? इसका पता लगाने के लिए वैज्ञानिकों ने 48 कुत्तों पर शोध किया, उनमें से आधे विशेष पुलिस या बचाव कार्य के प्रशिक्षण वाले थे ।

 

Image result for कुत्ते कैसे सूंघते हैं
Credit: Haribhoomi

एक प्रयोगशाला में वैज्ञानिकों ने सभी कुत्तों के पसंदीदा खिलौनों को फर्श पर दूर कहीं छिपा दिया, जबकि कुत्तों को दूसरे कमरे में रखा गया  था। इसके बाद एक शोधकर्ता कुत्तों को प्रयोगशाला में लेकर आया और गंध के शुरुआती बिंदु पर खड़ा कर दिया और कुत्ते से कहा, “इसे ढ़ूंढ़ो! इसे लेकर आओ!” पहली कोशिश में या तो कुत्ता अपना पसंदीदा खिलौना ला पाया या फिर आश्चर्यजनक रुप से कोई अन्य चीज़।

Image result for कुत्ते कैसे सूंघते हैं
Credit: cananadcam

आश्चर्य कर देने वाली बात, कुत्तों ने गंध के साथ खिलौनों की खोज जारी रखी —एक संकेत है कि उनके पास एक मानसिक प्रतिनिधित्व था कि उनसे क्या ढ़ूंढ़ने की उम्मीद की जा रही है, जॉर्नल ऑफ कंपरेटिव साइक्लॉजी की पत्रिका में वैज्ञानिकों की एक रिपोर्ट छपी थी। इस टेस्ट में पारिवारिक और कामकाज़ी दोनों ही कुत्तों ने एक जैसा ही प्रदर्शन किया, पूर्व के इस शोध को साबित किया कि, कुत्तों की क्षमता बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण की कोई जरुरत नहीं है।

 

Image result for कुत्ते कैसे सूंघते हैं
Credit: Liveup

पूर्व के शोध में बताया गया था कि घोड़ों के दिमाग में अपने मालिक और दूसरे घोड़ों की तस्वीर होती है—उनकी आवाज़ और हिनहिनाने के आधार पर। लेकिन वैज्ञानिक इस बारे में बहुत कम जानते हैं कि गंध पर निर्भर जानवरों में गंध और अनुभूति कैसे जुड़ी हुई है—जैसे कि कुत्ते, हाथी, और चूहे। लेकिन अब हमें इसका अच्छे से अनुभव हो गया है कि हमारे पालतू जीवों के मस्तिष्क में उस चीज़ की तस्वीरें होती हैं, जिसकी वे तलाश कर रहे होते हैं।

 

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds