हर स्पेस मिशन के पीछे एक बढ़िया फ्लाइट कंट्रोल टीम का हाथ होता है। नवंबर 2 से लगातार 2000 लोग अंतरराष्ट्रीय स्पेश स्टेशन में रह रहे हैं। और उन 6,371 दिनों के प्रत्येक घंटो, और गिनती जारी है, को ह्यूस्टन  (Houston) स्थित नासा के मिशन कंट्रोल सेंटर (Mission Control Center), जॉनसन स्पेस सेंटर (Johnson Space Center) से पुरुष और महिलाओं की टीम उन पर निरंतर निगरानी रख रही है।

नासा के अनुसार, समूह के ज्ञान को संग्रहित करने और वे जो काम करते हैं उसे समझाने के लिए, फ्लाइट डायरेक्टर, जिन्होंने “दी इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन: ओपरेटिंग आन आउटपोस्ट्स इन दी न्यू फ्रंटियर” (The International Space Station: Operating an Outpost in the New Frontier) लिखने के लिए उनका प्रतिनिधित्व किया, जो अब फ्री में ऑनलाइन डाउनलोड करने के लिए मौजूद है। यह किताब समय और ऊर्जा की जानकारियां उपलबद्ध कराती है, जो ह्यूस्टन के फ्लाइट कंट्रोल टीम एक मिशन की योजना बनाने, क्रियान्वित करने और उसके विकास में लगाती है।

The International Space Station: Operating an Outpost in the New Frontier
Credit: NASA

किताब के प्रमुख लेखक और कार्यकारी संपादक, फ्लाइट डायरेक्टर रॉबर्ट डेंपसी (Robert Dempsey) ने कहा, “मैं उन महिलाओं और पुरुषों की कहानियां बताना चाहता हूं, जिन्होंने मानव स्पेस फ्लाइट को एक शानदार सफलता तक पहुँचाने में दिन रात एक कर शांतिपूर्वक काम किया।”

डेंपसी और उनके सह-लेखक ने किताब के 20 अध्यायों को दो श्रेणियाँ में बांटकर किया। दस सिस्टम्स (systems) अध्याय स्पेस स्टेशन में काम होने वाले प्रमुख तत्वों का अवलोकन उपलबद्ध कराता है—कंप्यूटर, संचार, और लाइफ सपोर्ट उनमें से कुछ हैं। इनमें से प्रत्येक मूलभूत अध्याय फ्लाइट कंट्रोलर्स की दिनचर्या पर आधारित है—मिशन के दौरान विभिन्न बिंदुओं पर वे कैसे काम करते हैं।

उदाहरण के तौर पर, अध्याय पांच, “कमाण्ड एण्ड डाटा हैंडलिंग – दी ब्रेन्ज़ ऑफ दी इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन” (Command and Data Handling – The Brains of the International Space Station), वह अध्याय 6 ब्रेन ट्रांस्प्लांट ऑन दी इंटरनेशनल स्पेस स्टेशन” (Brain Transplants’ on the International Space Station) का अनुगमन करता है, यह बताते हुए कि 250 मील की दूरी पर यात्रा करने वाले अंतरिक्ष यान के सॉफ्टवेयर को अपडेट कैसे किया जा सकता है।

डेम्पसी ने कहा, “स्पेस स्टेशन के कंप्यूटर सिस्टम पर पांच सालों तक काम करने के बाद, मुझे एहसास हुआ कि “रॉकेट साइंस्ट” का क्या मतलब है। यह तकनीकी के बारे में नहीं है, बल्कि उन लोगों के बारे में है जो टीम वर्क, सतर्कता, जिम्मेदारी और क्षमता में विश्वास करते हैं। मुझे आशा है कि लोगों को इस किताब को पढ़कर इसकी जानकारी मिलेगी।”

400 पन्नों की यह किताब 10 स्पेस स्टेशन फ्लाइट निदेशकों की जानकारियों का संग्रह है, जिन्होंने इसे लिखा है, मिशन कंट्रोल के अपने 45,000 घंटों के अनुभवों को चित्रित किया है। डेंपसी के अतिरिक्त, इसमें डिना कॉन्टेला (Dina Contella), डेविड कोर्थ (David Korth), माइकल लैमर्स (Michael Lammers), कॉर्टनी मैक मिलन (Courtenay McMillan), एमिली नेल्सन (Emily Nelson), रोइस रेनफ्र्यू(Royce Renfrew), ब्राएन  स्मिथ (Brian Smith), स्कॉट स्टोवर (Scott Stover) और एड वैन चिस (Ed Van Cise) भी हैं।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds