मच्छरों की भनभनाहट भला किसे रास आती है दुनियाभर के लोग मच्छरों के काटने से होने वाली बीमारियों से भी काफी परेशान हैं और शायद चीन इस समस्या से कुछ ज्यादा ही परेशान है, तभी तो इस समस्या से निपटने के लिए चीन ने एक खास रडार विकसित किया है।

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट की खबर अनुसार इस सरकारी परियोजना में शामिल एक वरिष्ठ वैज्ञानिक ने कहा कि, “चीन ने एक खास तरह का अत्यधिक संवेदनशील रडार विकसित किया है, जो दो कि.मी. के दायरे में भी मच्छरों की भनभनाहट को आराम से भांप सकता है और उनका सफाया कर सकता है।”

Credit: scmp

बीजिंग इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी (BIT) में मौजूद रक्षा प्रयोगशाला में आजकल इस नए और अनोखे रडार के प्रतिमान का परीक्षण चल रहा है। खबरों के मुताबिक चीन का यह रडार ठीक वैसे ही काम करता है, जैसे सेना का रडार दुश्मनों को खोज-खोजकर मार गिराता है। अपने इस अनोखे रडार के लिए चीन 12.9 मिलियन डॉलर खर्च कर रहा है।

Credit:scmp

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइज़ेशन के अनुसार सभी युद्धों के मुकाबलें मच्छरों की वजह से ज्यादा जाने गई हैं। मच्छरों के काटने से होने वाले संक्रमण या बीमारियों से अभी भी प्रत्येक साल करीब एक मिलियन से भी अधिक लोगों को अपनी जान गंवानी पड़ती है। मच्छर अपने साथ मलेरिया, डेंगु, ज़ीका आदि के वायरस फैलाते हैं।

एनडीटीवी की एक खबर अनुसार बीते साल चीन में डेंगू से करीब 47,000 से भी अधिक लोग प्रभावित हुए थे। इनमें अधिकांश मामले गुंआंगदोंग प्रांत में थे।

Share

वीडियो