नीति आयोग ने संयुक्त राष्ट्र के “सतत विकास लक्ष्य” (Sustainable DevelopmentGoals (SDG)) के तहत एक सूची जारी की है, जिसमें देश के राज्यों को उनके प्रदर्शन के आधार पर अंक दिए गए हैं। नीति आयोग की इस सूची में जहां हिमाचल प्रदेश, केरल और तमिलनाडु जैसे राज्यों का प्रदर्शन बेहतर है, तो वहीं उत्तर प्रदेश और बिहार जैसे राज्यों का प्रदर्शन निराशाजनक है।

दी हिन्दू के अनुसार शुक्रवार को जारी एसडीजी ((SDG)) इंडिया इंडेक्स 2018 में राज्यों द्वारा वहां की जनता को मुहैया करायी जाने वाली सुविधाओं के आधार पर अंक दिए गए हैं। इस इंडेक्स के अनुसार सतत विकास लक्ष्यों को हासिल करने की दिशा में केरल, हिमाचल प्रदेश, तमिलनाडु, पुद्दुचेरी और चंडीगढ़ को फ्रंटरनर की श्रेणी में रखा गया है। शेष सभी राज्य परफॉर्मर की श्रेणी में रखे गए हैं।

Credit: NITIAYOG

खबरों के अनुसार इस संबंध में नीति आयोग के उपाध्यक्ष डा. राजीव कुमार का कहना है कि जब तक भारत सतत विकास लक्ष्यों को हासिल नहीं कर लेता, तब तक विश्व इन लक्ष्यों को हासिल नहीं कर पाएगा। आयोग के सीईओ अमिताभ कांत का भी कहना है कि यह इंडेक्स देश में तथा राज्यों की सामाजिक, आर्थिक और पर्यावरणीय स्थिति की समग्र तस्वीर पेश करेगी। यह इंडेक्स 62 संकेतकों पर राज्यों की प्रगति की निगरानी करेगी।

Share

वीडियो