“अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस” (International Nurses Day) नोबल नर्सिंग सेवा की शुरूआत करने वाली “फ़्लोरेन्स नाइटिंगेल” (Florence Nightingale) के जन्म दिवस पर हर साल दुनिया भर में मई 12 को मनाया जाता है। “विश्व स्वास्थ्य संगठन” (World Health Organization) की एक रिपोर्ट के अनुसार दुनिया भर में अमीर और ग़रीब दोनों प्रकार के देशों में नर्सोंं की कमी चल रही है।

Image result for International Nurses Day pics
Credit: askideas

विकसित देश अपने यहाँ नर्सोंं की कमी को अन्य देशों से नर्सोंं को बुलाकर पूरा कर लेते हैं और उनको वहाँ पर अच्छा वेतन और सुविधाएँ देते हैं, जिनके कारण वे विकसित देशों में जाने में देरी नहीं करती हैं। दूसरी ओर विकासशील देशों में नर्सोंं को अधिक वेतन और सुविधाओं की कमी रहती है और आगे का भविष्य भी अधिक उज्ज्वल नहीं दिखाई देता, जिसके कारण वे विकसित देशों के बुलावे पर अपने देश को छोड़ अन्य देशों में नौकरी के लिए चली जाती हैं।

Related image
Credit: mahak-charity

दुनिया में अधिकांश देशों में आज भी प्रशिक्षित नर्सों की भारी कमी चल रही है।लेकिन विकासशील देशों में यह कमी और भी अधिक देखने को मिलती है। भारत में विदेशों के लिए नर्सों के पलायन में पहले की अपेक्षा कमी आई है।लेकिन रोगी और नर्स के अनुपात में अभी भी भारी अंतर है। “ट्रेन्ड नर्सेस एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया” (The Trained Nurses Association of India) की महासचिव के अनुसार सरकार द्वारा उठाए गए कदमों के कारण भारत में प्रशिक्षित नर्सों की संख्या में कुछ सुधार हुआ है।

Related image
Credit: indiacelebrating

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के अनुसार सरकारी चिकित्सा महाविद्यालयों और अस्पतालों में नर्सों की कमी को ध्यान में रखते हुए विवाहित महिलाओं को भी नर्सिंग पाठयक्रम में प्रवेश लेने की अनुमति दी गई है। नर्सों की सराहनीय सेवा को मान्‍यता प्रदान करने के लिए भारत सरकार के परिवार एवं कल्‍याण मंत्रालय ने “राष्‍ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार” की शुरुआत की। पुरस्‍कार प्रत्‍येक वर्ष 12 मई को दिये जाते हैं। यह पुरस्‍कार प्रति वर्ष माननीय राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किये जाते हैं।

Image result for फ्लोरेंस नाइटिंगल pics
Credit: thenewinquiry

आधुनिक नर्सिंग की संस्‍थापक फ्लोरेंस नाइटिंगल का जन्‍म मई 12, 1820 को हुआ था। 1965 से अभी तक यह दिन प्रत्‍येक वर्ष इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्सेज द्वारा अन्‍तर्राष्‍ट्रीय नर्स दिवस के रूप में मनाया जाता है। इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्सेज (International Council of Nurses), नर्सोंं के लिए नए विषय की शैक्षिक और सार्वजनिक सूचना की जानकारी की सामग्री का निर्माण और वितरण करके इस दिन को याद करता है। फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार में 50 हज़ार रुपए नकद, एक प्रशस्ति पत्र और मेडल दिया जाता है।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds