राजधानी दिल्ली की लाइफ-लाइन कही जाने वाली दिल्ली मेट्रो को दिल्ली वासियों की सेवा करते हुए 16 साल हो गए हैं। मात्र 8 कि.मी. की दूरी के साथ पटरी पर उतरी दिल्ली मेट्रो आज करीब 100 कि.मी. की दूरी तय करती है और यहां की जनता की सेवा करती है। बता दें कि दिसंबर 24, 2002 को तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने दिल्ली मेट्रो को हरी झंडी दिखाकर उद्घाटन किया था।

उद्घाटन के बाद से ही दिल्ली मेट्रो दिन-दूनी, रात-चौगूनी प्रगति करती आ रही है और आज दुनिया की सबसे लंबी अंडरग्राउण्ड पब्लिक ट्रांसपोर्ट में सुमार है। इसके अलावा दिल्ली मेट्रो के लिए यह वर्ष इसलिए भी खास है क्योंकि इस वर्ष इसने करीब 87 कि.मी. की नयी पटरियों का विस्तार किया है। इंडिया टुडे ने दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन का हवाला देते हुए लिखा है कि इस वर्ष विभिन्न लाइनों का विस्तार करते हुए दिल्ली मेट्रो ने 87 कि.मी. लंबे नये ट्रैकों का विस्तार किया है।

गौरतलब हो कि दिल्ली मेट्रो देश भर में पब्लिक ट्रांसपोर्ट का सबसे बड़ा साधन है। फिलहाल दिल्ली मेट्रो में आठ कलर-कोडेड लाइनों का विस्तार है, जिनमें रेड लाइन, येलो लाइन, ब्लू लाइन, वायलेट लाइन, ऑरेंज, ग्रीन, मजेंडा और पिंक लाइन हैं, जो लोगों को उनके गंत्वय तक समय से पहुंचाती हैं। एक अनुमान के मुताबिक हर रोज दिल्ली मेट्रो से करीब 27 लाख लोग यात्रा करते हैं।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds