यह बच्‍चा आधे दिल के साथ पैदा हुआ और केवल चार दिन की उम्र में हुई ओपन-हार्ट सर्जरी के बाद अब जीवित अपने घर पहुँच गया है। उसके जीवन की पहली बड़ी चुनौती पार होने के बाद अब परिजन अपने बच्‍चे के भविष्‍य के बारे में सोच रहे हैं—आगे आने वाली किसी भी चुनौतियों का सामना करने को तैयार हैं।

इंग्‍लैंड (England) में लीड्स (England) के रेगी एस्लिन (Reggie Aslin) जन्‍म से ही इाइपोप्‍लास्टिक लेफ्ट हार्ट सिंड्रोम (HLHS) नामक विकार से ग्रसित था जोकि एक दुर्लभ स्थिति होती है, जिसमें हृदय सही आकार में नहीं बनता जिससे वह शरीर में पर्याप्‍त रक्‍त प्रवाहित करने में भी समर्थ नहीं होता। ऐसी स्थिति में रेगी के जीवन को सार्थक करने के लिए जन्‍म के चंद रोज बाद ही उसके हृदय को ठीक करने को ओपन-हार्ट सर्जरी की जरूरत थी ताकि यह पूरी दक्षता के साथ रक्‍त संचरण करने में समर्थ हो जाए। फिर भी यदि जोखिम भरी सर्जरी से नवजात बच भी जाता तो उसके किशोरावस्‍था तक जीने की संभावनाएं नहीं हैं।

उसके माता-पिता क्रशम: 35 व 34 वर्षीय ली और मिशेल एस्लिन—जो बीते 6 सालों से एक बच्‍चा पाने की कोशिश कर रहे थे—को गर्भावस्‍था के 20 सप्‍ताह में स्‍केन करवाने पर रेगी के हृदय संबंधी विकार की जानकारी हुई, जिससे वे परेशान हुए। चिकित्‍सकों ने बताया कि उनके बेटे के जिंदा रहने की संभावना 50 प्रतिशत से अधिक नहीं है। इसके बावजूद माता-पिता दोनों नेे गर्भपात न करवाने का निर्णय किया।

©Facebook | Michelle Aslin

इसी साल सीजेरियन सेक्‍शन (Cesarean section) के जरिए जन्‍मे बच्‍चे का वजन 9 lbs 12 oz था। तत्‍पश्‍चात 4 दिन में ही नन्‍हे रेगी के हृदय की सर्जरी शुरू हुई—तीन चरणों वाली प्रकिया के पहले कदम ”नॉरवुड (Norwood)” में वस्‍तुत: बाएं हिस्‍से का काम करने के लिए हृदय के दाएं हिस्‍से को लगाया जाता है।

फिर ”रिराइट्स (rewrites)”, जिसमें दायें वेंट्रिकल (ventricle) से पूरे शरीर में ऑक्‍सीजन-युक्‍त लाल रक्‍त पहुंचाया जाता है, जबकि गैर ऑक्‍सीजन-युक्‍त नीले रक्‍त को सीधे फेफड़ों तक जाने दिया जाता है।

वैसे इन प्रक्रिया के तीनों चरणों के दौरान कुल मरीजों में से सिर्फ 60 प्रतिशत ही जिंदा रहते हैं।

©Facebook | Reggie’s half a heart journey HLHS

9 घंटे तक चले कठिन ऑपरेशन ने रेगी के सीने में बड़ा सा निशान छोड़ा था और वह तीन प्रक्रियाओं वाले उपचार के सबसे मुश्किल दौर में भी चमत्‍कारिक रूप से जीवित था जो आशावादी होने की वजह था।

एक चिकित्‍सक ने कहा, ”पहला ऑपरेशन हमेशा ही खतरनाक है क्‍योंकि यह लंबी अवधि का और जटिलताओं से भरा होता है, इसलिए यह सबसे बड़ा अवरोध था। चूंकि उसे वहां से बचा लिया गया इसलिए हमें विश्‍वास है कि वह दूसरे लोगों को बचाने में भी विश्‍व भर में उदाहरण बनेगा। निश्चित ही वह नन्‍हा योद्धा है।”

©Facebook | Reggie’s half a heart journey HLHS
©Facebook | Reggie’s half a heart journey HLHS
©Facebook | Reggie’s half a heart journey HLHS

अपने जीवन के शुरुआती छह सप्‍ताह लीड्स रॉयल इन्‍फर्मरी (Leeds Royal Infirmary) में बिताने के बाद रेगी को घर जाने की इजाजत मिली, यह वक्‍त एस्लिन परिवार के लिए खुशियों के आगमन का था। मॉं और पिता हर समय उसके पास रहे। शुक्र है बेटे संग पहले क्रिसमस की खुशियां मनाने के लिए वे अपने बेटे को कुछ माह पहले ही घर ला सके हैं। मिशेल की एक 13 वर्षीय बेटी केटलिन (Katelyn) भी है।

मिशले ने कहा, ”इसका मतलब है कि हम उसे अपने साथ रख सकेंगे फिर चाहे हम कितना भी एक साथ गुजारें, 2 माह, 1 साल, 10 या और अधिक। हम यह समय पाकर खुश हैं। जितना भी हो सकेगा हम उसे प्‍यार देंगे और बहुत सी यादें। उसके पास शानदार जीवन होगा, जब तक वह रह सकेगा।”

©Facebook | Reggie’s half a heart journey HLHS
©Facebook | Reggie’s half a heart journey HLHS

रेगी की मॉं ने कहा, ”हम उम्‍मीद कर रहे हैं कि आगामी 19-20 साल या और अधिक समय तक हम उसकी मदद करेंगे। यदि वह और अधिक संघर्ष नहीं करना चाहेगा तो उसकी मर्जी।”

परिवार अब भविष्‍य की ओर देख रहा है और उम्‍मीद कर रहा है कि भविष्‍य में चिकित्‍सा प्रणाली अधिक उन्‍नत होगी जो रेगी की जिंदगी को उसकी सीमित जीवन प्रत्‍याशा से ज्‍यादा जीवन प्रदान करने में सहायता करेगी।

उदासी भरा नजरिया मानवीय स्‍वभाव का हिस्‍सा है, यह कई बार उन लोगों के लिए स्‍नेह और उम्‍मीद का माध्‍यम होता है जोकि हमारे दिल के करीब होते हैं। यहां तक कि जब वहां उम्‍मीद की एक डोर भी हो तो हम उन्‍हें अधिक उम्‍मीद दे सकेंगे। कल्‍पना करें जब सभी नकारात्‍मक धारणाएं गलत साबित हो जाती हैं! सोचाे जब सभी अवरोधों के बावजूद हमारे प्रियजन सफलता हासिल कर लेते हैं! इस प्रकार की चीजें नियमित रूप से होती रहती हैं। ये स्थितियां हमें बताती हैं कि यह दिमाग की बजाय दिल से सोचने का फल है जो जीवन को नया नजरिया देता है।

Share
Tags: Categories: Uncategorized

वीडियो