जनता की सेवा में लगी भारतीय पुलिस हर परिस्थितियों में जनता की सहायता और सुरक्षा के लिए तत्पर रहती है। अपनी जान की परवाह किए बगैर पुलिस के ये जवान अपने लोगों की जिंदगी बचाते हैं। शनिवार को कुछ ऐसा ही कार्य यूपी पुलिस के एक असिस्टेंट सुप्रिटेंडेंट ऑफ पुलिस (Assistant Superintendent of Police (ASP)) डॉ.अनिल कुमार ने भी किया। जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बगैर जिंदगी और मौत के बीच फंसी एक महिला को नया जीवन दिया।

मामला पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का है, जहां शनिवार को सारनाथ में मिट्टी से लदा एक डंफर एक स्कॉर्पियो कार पर पलट गया। जिसके नीचे एक महिला बुरी तरह फंस गयीं। दी बेटर इंडिया ने अधिकारियों के हवाले से बताया कि, स्थिति यह थी कि जरा सी असावधानी से डंफर पूरी तरह स्कॉर्पियो पर पलट जाता और वहां फंसी महिला की संभवतः मौत हो जाती। लेकिन एएसपी अनिल कुमार के साहस और सूझबूझ की बदौलत महिला को सकुशल मौत के मुंह से बाहर निकाला जा सका।

दुर्घटना की खबर मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने स्कॉर्पियों में फंसे अन्य यात्रियों को तो सहज ही बाहर निकाल लिया किन्तु एक महिला बुरी तरह से फंसी हुई थी, जिन्हें बाहर निकालना काफी दुष्कर था। आपात स्थितियों को भांपते हुए एएसपी अनिल कुमार ने खुद कार के नीचे घुस कर शीघ्रता से महिला को बाहर निकालने का फैसला किया।

करीब तीन घंटों तक चले इस बचाव कार्य में अपने हाथों से मिट्टी हटाकर एएसपी ने उस महिला को सकुशल मौत के मुंह से बाहर निकाल लिया। एएसपी की साहस और बहादुरी को देखते हुए यूपी पुलिस ने अपने ट्वीटर हैंडल पर उनकी सराहना की है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds