पेंटागन (Pentagon) ने दुनिया भर में संयुक्त राज्य (U.S.) सैन्य संचालन केंद्रों को चीनी (China) निर्माताओं द्वारा बनाए गए सभी हुवावे (Huawei) और जेडटीई (ZTE) स्मार्टफोनों को दुकानों से हटाने का आदेश दिया है, ताकि संयुक्त राज्य सैन्य के लिए कार्य करने वाले सदस्यों की सुरक्षा से समझौते करने से बचा जा सके।

पिछले हफ्ते द इपोक टाइम्स (The Epoch Times) ने बताया था कि चीनी-निर्मित हुवावे स्मार्टफोन जर्मनी (Germany) में कई अमेरिकी सैन्य संचालन केंद्रों के आर्मी एंड एयर फोर्स एक्सचेंज सर्विस  (Army and Air Force Exchange Service, AAFES) की दुकानों पर बिकने वाले इलैक्ट्रोनिक उत्पादों में से एक था। कार्य करने वाले सदस्य व्यक्तिगत तौर पर फोन का इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि यह उपकरण अपने उपयोगकर्ताओं की जासूसी कर सकता है।  

पेंटागन (The Pentagon) ने विभागीय विनिमय सेवा की दुकानों को इसे बेचने से प्रतिबंधित करने का निर्णय लिया है।

“हुवावे और जेडटीई उपकरण विभागीय कर्मचारी, सूचना और प्रेषण को अवांछनीय जोख़िम में डाल सकता है,” पेंटागन के प्रवक्ता सेनाधिपति डेव ईस्टबर्न (Major Dave Eastburn) ने कहा। “यह जानकारी होने के बाद, विभागीय विनिमय के लिए डीओडी (DoD) कर्मचारियों को यह बेचना बुद्धिमानी नहीं थी।”

संयुक्त राज्य के लिए कार्य करने वाले सदस्यों को अब भी जेडटीई और हुवावे फोन कहीं और से खरीदने और अपने व्यक्तिगत इस्तेमाल करने की अनुमति है। हालांकि, महज इन फोनों को अपने पास रखकर, चाहे वह इसका इस्तेमाल केवल अपने व्यक्तिगत संप्रेषण के लिए करें, फिर भी उन्हें चीनी निगरानी में आने का जोख़िम बना होता है।

पेंटागन फिलहाल यह समीक्षा कर रहा है कि इन दो चीनी ब्रांडों द्वारा बनाए गए फोनों के इस्तेमाल के जोख़िम को लेकर संयुक्त राज्य के लिए कार्य करने वाले सदस्यों के लिए व्यापक परामर्शी चेतावनी जारी करे या नहीं, ईस्टबर्न (Eastburn) ने कहा, हालांकि संभावित ख़तरों के तकनीकी पहलुओं को पेंटागन ने जाहिर नहीं किया है।

कई संयुक्त राज्य ख़ुफ़िया अधिकारी और कांग्रेस के सदस्य हुवावे उपकरण को राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए ख़तरा मानते हैं। फ़रवरी में, सीआईए (CIA), एफबीआई (FBI), नेशनल सिक्योरिटी एजेंसी (National Security Agency), के मुखियाओं ने सीनेट (Senate) की सुनवाई से पहले गवाही दी, और सुनवाई के दौरान मौजूद सभी चश्मदीदों ने कहा कि अमेरिकियों को हुवावे और जेडटीई द्वारा निर्मित चीनी स्मार्टफोन का उपयोग नहीं करना चाहिए।

हम किसी भी कंपनी या संस्था को, जो विदेशी सरकारों से अनुग्रहित है, जो हमारे मूल्यों को हमारे दूरसंचार नेटवर्कों में सत्ता की स्थिति प्राप्त करने के लिए साझा नहीं करता है, उसे अनुमति देने के खतरों को लेकर बहुत चिंतित हैं, एफबीआई (FBI) के निदेशक क्रिस्टोफर रे (Christopher Wray) ने कहा। “यह सूचना को दुर्भावनापूर्वक संशोधित करने या चुराने की क्षमता प्रदान करती है, और यह गुप्त जासूसी करने की क्षमता प्रदान करता है।”

हाल ही में संयुक्त राज्य-चीन आर्थिक और सुरक्षा समीक्षा आयोग (Economic and Security Review Commission) की रिपोर्ट में भी यह कहा गया है कि औसतन, संयुक्त राज्य सरकार को आपूर्ति किए जाने वाले सूचना प्रोद्योगिकी उपकरणों का 51 प्रतिशत भाग चीन से आता है। रिपोर्ट में कहा गया है कि चीनी भागों पर यह निर्भरता संयुक्त राज्य सुरक्षा, आर्थिक प्रतिस्पर्धा और अमेरिकी नागरिक की निजता के लिए बड़ा ख़तरा बन सकती है।

हुवावे को रिपोर्ट द्वारा प्रमुख रूप से लक्षित किया गया था, जिसमें कहा गया है कि कंपनी के चीनी शासन के साथ व्यापक संबंध है। कंपनी के संस्थापक रेन जेंग्फी (Ren Zhengfei), पिपल्स लिबरेशन आर्मी (People’s Liberation Army) में पूर्व अधिकारी थे। वह आज भी कंपनी चला रहे हैं।

हुवावे ने लगातार आरोपों से इंकार किया है कि इसके उपकरणों का उपयोग चीनी शासन द्वारा जासूसी के लिए किया जा रहा है और हमेशा इस बात पर कायम रहे है कि कंपनी पर कर्मचारियों का स्वामित्व है। हालांकि, संयुक्त राज्य के अधिकारियों ने अमेरिकियों को चेतावनी दी है कि वह हुवावे फोन का इस्तेमाल न करें।

द इपोक टाइम्स की अनुमति से प्रकाशित

 

Share

वीडियो