तीन तलाक विधेयक संसोधन मामले में आज राज्यसभा में बिल पेश हो सकता है। जिसके तहत तीन तलाक देने वाले पति को जमानत मिल सकेगी। इसके अलावा बिल में संसोधन के बाद दंपति के सामने समझौते का विकल्प भी खुला रहेगा।

समाचार एजेंसी एएनआई के अनुसार गुरुवार को विपक्ष ने मुस्लिम महिला संरक्षण अधिकार विधेयक 2017 में तीन बदलाव करने का प्रस्ताव रखा।

पहला प्रस्ताव यह है कि इस मामले में पीड़िता के सगे ही एफआईआर दर्ज करा सकते हैं, दूसरा-यदि शौहर-बीवी एक साथ रहने के लिए राज़ी हो जाते हैं, तो केस को रद्द कर दिया जाए और तीसरा- यदि शौहर को अपनी बीवी को एक बार में ही तीन तलाक देने का पछतावा है, तो मजिस्ट्रेट उसे बेल दे सकता है।

हालांकि, राज्यसभा में तीन तलाक मामले में संशोधन बिल पास होने के बाद भी इसे लोकसभा से मंजूरी की ज़रूरत पड़ेगी।

Share

वीडियो