केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह शुक्रवार को तीन दिवसीय दौरे के लिए बांग्लादेश रवाना हुए। इस दौरान वे आतंकवाद रोधी सहयोग और रोहिंग्या शरणार्थियों की आवक जैसे मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

राजनाथ जी ने प्रस्थान से पूर्व ट्वीट किया, “बांग्लादेश के तीन दिवसीय दौरे के लिए ढाका रवाना हो रहा हूं। भारत और बांग्लादेश के रिश्ते इतिहास, संस्कृति, भाषा और लोकतंत्र के साझा मूल्यों से बंधे हुए हैं। भारत बांग्लादेश के साथ संबंधों को बहुत महत्व देता है।”

उन्होंने कहा कि दोनों देशों ने समुद्री और स्थलीय सीमाओं को शांति क्षेत्र में बदलने में उल्लेखनीय प्रगति की है । राजनाथ ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को मित्रता और विश्वास के आधार पर मजबूत करने को उत्सुक हूं।

राजनाथ अपने दौरे के दौरान बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से मुलाकात करेंगे और उनके साथ विभिन्न मुद्दों पर चर्चा करेंगे।

राजनाथ के साथ गृह मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी भी हैं और वे बांग्लादेश के गृहमंत्री असदुज्जमान खान के साथ आतंकवाद रोधी सहयोग, सीमा आर-पार व्यापार और अवैध आव्रजन तथा पशुओं, हथियार व गोला-बारूद, नारकोटिक्स, दवाओं व भारतीय मुद्रा की तस्करी जैसे अन्य मुद्दों पर भी चर्चा करेंगे। दोनों देश 4,096 किलोमीटर लंबी सीमा साझा करते हैं।

राजनाथ रोहिंग्या शरणार्थियों का मुद्दा और बांग्लादेश में स्थित अपराधियों द्वारा सीमा सुरक्षा बल के जवानों पर हमले का मुद्दा भी उठाया जा सकता है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds