डीएमके प्रमुख एम.करुणानिधि के निधन के बाद उनकी समाधि को लेकर खड़ा हुआ विवाद अब खत्म होता नजर आ रहा है। मद्रास उच्च न्यायालय ने इसके खिलाफ दाखिल की गई याचिका को खारिज़ कर दिया है।

जागरण के अनुसार मरीना बीच पर करुणा निधि की समाधि बनाए जाने के खिलाफ ट्रैफिक रामास्वामी, के.बालू और दुरईस्‍वामी ने कोर्ट में याचिका दायर की थी। उनकी समाधि को लेकर देर रात तक अस्पताल के बाहर हंगामा भी हुआ था।

हालांकि, बाद में मद्रास उच्च न्यायालय ने उस याचिका को खारिज़ कर दिया और ट्रैफिक रामास्वामी के वकील को निर्देश देते हुए कहा कि वे ज्ञापन सौंप कर बताएं कि उन्हें करुणानिधि को मरीना बीच पर दफनाने में कोई आपत्ति नहीं है। जिसके बाद वकील ने कार्यकारी मुख्य न्यायाधीश के सामने ज्ञापन सौंपा।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds