विनाशकारी बाढ़ में अपनी जान की परवाह किए बगैर देश के जवानों ने केरल के लोगों की जान बचाई और उनकी मदद की। अब बाढ़ खत्म होने के बाद केरल के पुनर्स्थापन में ये जवान पूर-जोर कोशिशों में लगे हुए हैं।

बुधवार को नवी स्टाफ प्रमुख, सुनील लांबा, एर्नाकुलम के मुट्टीनकम गांव पहुंचें, जहां उन्होंने राहत एवं पुनर्स्थापन कार्यों का जायज़ा लिया।

समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए लांबा ने कहा, “बाढ़ के दौरान हम करीब 17,000 लोगों को बचाने में कामयाब रहें। अब हमने अपने कार्य करने का तरीका बदल दिया है और अब केरल के पुनर्स्थापन की तरफ ध्यान दे रहे हैं।”

उन्होंने यह भी कहा कि इस मुश्किल घड़ी में केरल की सहायता के लिए हमारे अधिकारी और कर्मचारियों ने अपनी एक दिन की सैलरी केरल राहत कोश  में दान भी की है। इसके अलावा नेवी की तरफ से केरल को ₹25 लाख से अधिक की राहत सामग्री भी पहुंचाई गई ।

Share

वीडियो