हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने रविवार को “पौधगिरी अभियान” का शुभारंभ किया। इस अभियान के तहत मॉनसून सत्र के दौरान राज्य में 22 लाख से ज्यादा पौधे लगाए जाएंगे, ताकि हरित क्षेत्र को बढ़ाया जा सके। उन्होंने यहां ताउ देवी लाल खेल परिसर में मौलसरि का पौधा लगाकर अभियान की शुरुआत की।

खट्टर ने कहा कि अभियान के तहत हरियाणा के सभी सरकारी स्कूलों के साथ-साथ निजी स्कूलों की छठी से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले 22 लाख से ज्यादा छात्र मॉनसून के तीन महीनों (जुलाई से सितंबर) के दौरान एक-एक पौधा लगाएंगे।

वृक्षारोपण से पर्यावरण पर पड़ने वाले सकारात्मक प्रभाव को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि सभी छात्रों को वन विभाग की ओर से एक पौधा मिलेगा, जिसे वे अपने घरों के बागीचे, मैदान, पार्क, स्कूल या फिर कहीं खुली जगह में लगा सकते हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा, वे पौधे को अपनी पसंद के हिसाब से नाम दे सकते हैं, चाहे वह देश के महान व्यक्तियों के नाम पर हो या हमारे स्वतंत्रता सेनानियों या उनके परिवार के सदस्यों या उनके पूर्वजों के नाम पर। पौधे लगाने वाले हर छात्र को अगले तीन सालों तक इसका ख्याल रखना होगा।

छात्र को हर छह महीने में एक बार एप पर अपने पौधे के साथ एक सेल्फी अपलोड करनी होगी और उसे सरकार द्वारा हर छह महीने पर 50 रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी।

उन्होंने कहा कि तीन साल में पौधा स्वयं जीवित रहने की स्थिति में होगा और 10 वर्षों में यह फूल, फल, छाया देना शुरू कर देगा। इसके साथ ही इससे ग्लोबल वार्मिंग रोकने में भी मदद मिलेगी। जिले के विभिन्न स्कूलों के लगभग 3,100 छात्रों ने वृक्षारोपण अभियान में भाग लिया।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds