बीते शनिवार को इंडोनेशिया में ज्वालामुखी के अचानक विस्फोट से आए सुनामी के कारण काफी जान-माल का नुकसान हुआ। अभी तक मिली खबर के अनुसार, इस सुनामी में करीब 429 लोगों की मौत और 1400 से ज्यादा लोग घायल हो गए हैं। साथ ही 154 अन्य लोगों के लापता होने की भी खबर है। साथ ही विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि ज्वालामुखी अभी भी सक्रिय है जिससे फिर तूफान आ सकता है।

नवभारत टाइम्स के अनुसार, इंडोनेशिया के खोजी और बचाव दल ने बुधवार को दूर द्वीपों पर फंसे लोगों को निकाला जो अभी भी मदद के इंतजार में थे। चिकित्सा कर्मियों मे चेतावनी देते हुए कहा है कि स्वच्छ पानी और दवाओं की कमी हो गई है जिससे स्वास्थ्य का खतरा हो सकता है। जहाँ हजारों लोग अस्पताल और आश्रय गृहों में हैं वहीं कई लोग इस सुनामी के चलते बेघर हो गए हैं।

आपदा एजेंसी ने कहा है कि उन्होंने पश्चिमी जावा और दक्षिणी सुमात्रा की तटरेखा पर रह रहे समुदायों तक राहत सामान पहुंचाने के लिए हेलीकॉप्टर की तैनाती की है। लापता लोगों को खोजने के लिए खोजी कुत्तों का इस्तेमाल किया जा रहा है लेकिन मलबे के नीचे दबे लोगों के जिंदा रहने की आशंका बेहद कम है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds