वैज्ञानिकों ने ब्रिटेन स्थित स्टोनहेन्ज (Stonehenge) के रहस्यों को सुलझाने का दावा किया है। जागरण के अनुसार ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय के वैज्ञानिकों का कहना है कि उन्होंने यहां मिले अवशेषों से पता लगाया है कि इसका निर्माण किन लोगों ने किया है।

खबरों के अनुसार पुरातत्विक अध्ययन और रेडियोकार्बन डेटिंग के आधार पर शोध के लेखक क्रिस्टोफ स्नोएक ने बताया कि यहां हड्डियों में पाए जाने वाले स्ट्रांशियम समस्थानिक की मदद से इस बात का पता चला कि यहां दफनाए गए लोग कहां के रहने वाले थे। गौरतलब हो कि इस शोध के लिए टीम ने 1920 में यहां से निकाली गईं 25 मानव खोपड़ियों का अध्ययन किया।

Stonehenge2007 07 30.jpg
Credit: Wikipedia

खबरों की माने तो अध्ययन में पाया गया है कि यहां मिले अवशेष 3000ईसा पूर्व के हैं और इसमें दफनाए गए 25 में से 10 लोग दूर के रहने वाले हैं। शोध के अनुसार यहां दफनाए गए लोग पश्चिमी ब्रिटेन के रहने वाले थे।

Credit:Wikipedia
बता दें कि स्टोनहेन्ज (Stonehenge) ब्रिटेन के विल्टशायर काउन्टी में स्थित एक प्रागैतिहासिक कालीन स्मारक है। इसका नाम विश्व विरासत स्थलों की सूची में भी है। लंबे समय से यहां के रहस्यों को सुलझाने के लिए शोध किए जा रहे हैं और अब जाकर वैज्ञानिकों को इसमें सफलता मिली है।
Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds