आखिरकार बंग्लादेश में रह रहे म्यांमार के रोहिग्याओं के लिए अच्छी खबर है। अब उन्हें जल्द ही अपने वतन में वापसी का मौका मिलेगा। वर्ष 2017 से वापसी की उम्मीद लिए बैठे लोगों की आशा अब पूरी होने वाली है।

नवभारत टाइम्स की खबर के अनुसार, बांग्लादेश से इस वर्ष के नवंबर माह तक म्यांमार के रोहिंग्या शरणार्थियों की वापसी पर सहमती हो चुकी है। ये संयुक्त राष्ट्र के पिछले हफ्ते के बयान के कारण संभव हो पाया जिसमें मुस्लिम अल्पसंख्यकों के नरसंहार की बात कही गई थी। आपको ज्ञात होगा कि पिछले वर्ष के अगस्त में म्यांमार सेना ने एक क्रूर अभियान चलाया था, जिसके चलते वहाँ के लोग दूसरे देशों में भागने लगे थे।

इसी दौरान लगभग 7,20,000 लोगों ने बांग्लादेश में शरण ली थी।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds