चीन ने बुधवार को उस रिपोर्ट को सिरे से खारिज किया जिसमें कहा गया है कि अरबों की लागत वाली चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारा (सीपीईसी) परियोजना को जारी रखने के लिए पाकिस्तान ने चीन से और कर्ज मांगा है।

फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान ने चीन से सीपीईसी को जारी रखने के लिए और कर्ज देने को कहा था। यह परियोजना बीजिंग की महत्वाकांक्षी बेल्ट एंड रोड पहल का हिस्सा है। रिपोर्ट में यह भी दावा किया गया है कि जून 2018 वर्ष समाप्ति पर पाकिस्तान ने चीन से चार अरब डालर का कर्ज लिया था।

रिपोर्ट पर प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा, यह पूरी तरह से झूठ है।

उन्होंने कहा, सच यह है कि पाकिस्तान के वित्त मंत्री शमशाद अख्तर ने इस मसले पर सफाई देते हुए कहा है कि पाकिस्तान सीपीईसी निर्माण को जारी रखेगा।

बीजिंग ने सीपीईसी में 50 अरब डॉलर से ज्यादा रकम का निवेश किया है। इसके तहत चीन के शिनजियांग क्षेत्र को पाकिस्तान के ग्वादर बंदरगाह से जोड़ा गया है जिससे चीन को अरब सागर में अपनी पैठ बनाने में मदद मिलेगी।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds