ग्वाटेमाला (Guatemala) के अत्यधिक सक्रिय ज्वालामुखी फ्यूगो में विस्फोट में मरने वालोंकी संख्या अब 99 हो गई है। प्रभावित इलाकों से और शव मिलने के बाद से आंकड़ा बढ़ता जा रहा है। नेशनल फॉरेंसिक साइंसेस इंस्टीट्यूट (आईएनएसीआईएफ) ने बुधवार को घोषणा कर कहा कि 99 शवों को मुर्दाघर भेज दिया गया है। अब तक केवल 28 लोगों की पहचान हो पाई है।

ग्वाटेमाला के आपदा प्रबंधन एजेंसी के प्रमुख सर्गियो काबानास ने कहा, हमारे पास लापता लोगों के नाम और जहां से वे लापता हुए, इसकी जानकारी है और यह संख्या 192 है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, 3,763 मीटर के ज्वालामुखी में विस्फोट के बाद से उसमें ज्वालामुखी से उत्पन्न हानिकारक पदार्थ निकल रहे हैं, जिससे राहतकर्मियों को मजबूरन पीड़ितों को खोजने का काम बंद करना पड़ रहा है।

विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि भारी बारिश इलाके में चट्टानों के धंसने का कारण भी बन सकती है। फ्यूगो ज्वालामुखी में तीन जून को दोपहर में विस्फोट हुआ था, जिससे 17 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। सबसे ज्यादा प्रभावित इलाकों- चिमाल्टेनेंगो, सेकाटेपेकेज, इस्कुइंतला में आपातकाल घोषित किया गया है।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds