सिंगापुर के विदेश मंत्री विवियन बालाकृष्णन (Vivian Balakrishnan) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के साथ ऐतिहासिक शिखर सम्मेलन के लिए यहां पहुंचे उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन (Kim Jong-Un) और उनके साथ आए लोगों के होटल का बिल सिंगापुर चुकाएगा।

बालाकृष्णन ने एक साक्षात्कार में कहा, “यह मेहमाननवाजी है जो हम उनके लिए पेश कर रहे हैं।”  चेयरमैन किम ने गत दिवस को कहा था कि वे  सम्मेलन के लिए या बिना सम्मेलन के भी सिंगापुर आना पसंद करेंगे।

सिंगापुर के अखबार “स्ट्रेट्स टाइम्स” (Straits Times) की रिपोर्ट के अनुसार किम रविवार को यहां पहुंचे और वे मंगलवार को सुबह नौ बजे सेंतोसा द्वीप स्थित केपेला होटल में शुरू होने वाले शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे।

दोनों नेताओं के बीच परमाणु निरस्त्रीकरण के प्रयास, शांति और स्थायित्व के मसले पर बातचीत होने की संभावना है।

यह पूछे जाने पर कि क्या सेंट रेजीस स्थित होटल में ठहरे उत्तर कोरियाई दल के लिए सिगापुर ने होटल का बिल चुकाया है ? उन्होंने कहा,” बेशक, हम चुकाएंगे। उन्होंने हमें मेहमाननवाजी का मौका दिया है।”

उन्होंने बताया कि शिखर सम्मेलन पर कुल दो करोड़ डॉलर का खर्च सिंगापुर कर रहा है। प्रधानमंत्री ली सीन लूंग ने इससे पहले कहा कि इस राशि का आधा खर्च सुरक्षा पर किया जाएगा।

करीब 50 लाख डॉलर यहां आने वाले 2,500 से अधिक पत्रकारों के दल को सुविधाएं प्रदान करने पर किया जाएगा। रिपोर्ट के अनुसार, किम के बारे में यह कहा जाता है कि वे अपनी सुरक्षा को लेकर सशंकित रहते हैं।

उनके आगमन से पहले होटल में सुरक्षा की जांच के मद्देनजर उनकी टीम यहां आ चुकी थी। टीम में शामिल लोगों ने यहां स्थानीय अधिकारियों से मुलाकात की। किम के 2011 में सत्ता में आने के बाद यह उनका उत्तर-पूर्व एशिया का पहला दौरा है।

ट्रंप भी रविवार की रात ही सिंगापुर पहुंचे और सोमवार को उन्होंने प्रधानमंत्री ली के साथ दोपहर का भोजन किया। उन्होंने ली को उनकी मेहमाननवाजी के लिए धन्यवाद दिया।

ट्रंप ने कहा, मंगलवार को हमारी बड़ी रोचक बैठक है और मुझे लगता है कि सब कुछ अच्छा ही रहेगा।

उत्तर कोरिया और अमेरिकी राजनयिकों के बीच भी दोनों देशों के नेताओं के सामने शिखर सम्मेलन के दौरान पेश किए जाने वाले करार-पत्र को लेकर सोमवार को अंतिम दौर की बातचीत हुई।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds