डेली मल्टीमीडिया लिमिटेड की चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (COO), फिल्म निर्माता-निर्देशक व संगीतकार डॉ. फौजिया अर्शी को समाज सुधार के कार्यो और शिक्षा के क्षेत्र में उनके योगदान के लिए ब्रिटिश संसद और इंटरनेशनल ह्यूमन राइट्स एसोसिएशन (IHRA) ने सम्मानित किया है।

फौजिया अर्शी को समाज सुधार के उल्लेखनीय कार्यो और राजनैतिक झुकाव रखने वाले युवाओं को सही दिशा में प्रशिक्षण देने के लिए ब्रिटेन के हाउस ऑफ कॉमन्स के सदस्य वीरेंद्र शर्मा के हाथों सम्मान दिया गया। इस अवसर पर आईएचआरए में लॉ इंफोर्समेंट के डायरेक्टर नचिकेत जोशी भी मौजूद थे।

फौजिया ने आर्थिक रूप से कमजोर महिलाओं को अपने पैरों पर खड़ा करने की दिशा में उल्लेखनीय काम किया है। उन्होंने फिल्म निर्माण के क्षेत्र में ‘भैयाजी सुपरहिट’ से कदम रखा। उन्होंने ‘दिमाग का दही’ का निर्देशन भी किया। उन्हें “एक्सेप्शनल वुमन ऑफ एक्सिलेंस” (Exceptional Women of Excellence) का पुरस्कार भी प्रदान किया जा चुका है।

ब्रिटेन की संसद में फौजिया ने कहा कि मानव तस्करी जैसी गंभीर समस्याओं पर सरकार को ध्यान देने की जरूरत है। अगर सरकार चाहे तो ह्यूमन ट्रैफिकिंग और महिलाओं के खिलाफ हिंसा जैसी समस्याएं अपने आप खत्म हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि सभी देशों को अपनी व्यक्तिगत क्षमता से ज्यादा से ज्यादा रोजगार सृजन पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि ह्यूमन ट्रैफिकिंग की जड़ गरीबी और बेरोजगारी है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds