केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने रविवार को कहा कि भारत में 2017 में औसत विमान किराया 18 फीसदी कम हुआ है। साथ ही, घरेलू विमान सेवा में संयोजित सालाना वृद्धि दर बीते वित्त वर्ष में 2013-14 के मुकाबले 19 फीसदी बढ़ी है।

प्रभु ने ट्वीट के जरिए कहा, वर्ष 2015 के मुकाबले 2017 में विमान किराये में औसत 18 फीसदी की कमी आई है।  उन्होंने कहा कि मेक इन इंडिया पहल के तहत मंत्रालय देसी विमान बनाने की योजना पर काम कर रहा है।

उन्होंने एक अलग ट्वीट में कहा, भारत की नियमित विमान सेवा में विमान यात्रियों की तादाद वित्त वर्ष 2014 के 6.1 करोड़ मुकाबले वित्त वर्ष 2018 में ₹12 करोड़ हो गई। इस प्रकार घरेलू विमान सेवा में संयोजित सालाना वृद्धि दर 19 फीसदी दर्ज की गई है। रणनीतिक नीतियों के कारण भारत के अधिकांश लोगों को समय से पहले उड़ान मिलना संभव हुआ है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds