पूरे विश्व में “विश्व जल दिवस” (World Water Day) मार्च 22 को मनाया जाता है। वर्ष 1993 में संयुक्त राष्ट्र (United Nation) की सामान्य सभा के द्वारा इस दिन को एक वार्षिक कार्यक्रम के रुप में मनाने का निर्णय किया गया था। इस दिवस का उद्देश्य, लोगों के बीच जल का महत्व, आवश्यकता और संरक्षण के बारे में जागरुकता फैलाना है।

Happy #worldwaterday2018 – save every drop. Every drop counts.

A post shared by Gerlinde Moser (@gerlinde_moser) on

कहा जाता है, “जल ही जीवन है या बिन पानी सब सून”। संयुक्त राष्ट्र की वेबसाइट पर मौजूद आंकड़ों के मुताबिक, दुनिया के हर नौवें शख्स के पास पीने के लिए साफ पानी का अभाव है। इसकी वजह से हर साल लाखों लोग बीमारियों का शिकार होते हैं और उनकी मौत हो जाती है। वर्ल्ड वॉटर डे की हर साल एक थीम तय की जाती है। इस साल की थीम है, “प्रकृति से जल” (Nature From Water)। एक अनुमान के मुताबिक भारत में ही करीब 16 करोड़ लोग ऐसे हैं जिन्हें पीने का साफ पानी नहीं मिल पाता।


संयुक्त राष्ट्र के मुताबिक, “अगर इंसानों के लिए साफ पानी को बचाना है तो पहले हमें अपने इकोसिस्टम को सुधारना होगा।”

संयुक्त राष्ट्र संघ की वेबसाइट के अनुसार दुनिया में लोगों के लिए पर्याप्त पानी है लेकिन खराब अर्थव्यवस्था और आधारिक संरचना(Infrastructure) की वजह से हम न तो इसके स्रोतों का संरक्षण कर पाते हैं और न ही इनमें सुधार कर पाते हैं। एक तथ्य ये भी है कि सूखा उन देशों में ज्यादा है जहां जल स्रोतों का संरक्षण नहीं किया गया।

[English below] UNICEF’in raporuna göre bugün dünyada her gün 5 yaş altı 800’den fazla çocuk temiz su ve hijyene erişimi olmadığı için hayatını kaybediyor. Yaşamın devamı için temiz su kaynaklarına ihtiyacımız var. Suyu dikkatli kullanalım! ______________________________ According to UNICEF report, lack of clean water causes dying of over 800 children under age 5  every single day. Please use water wisely for better future. #worldwaterday #natureforwater #freshwaterpollution #environment #environmental #enviromentalist #enviromentalism #help #drought #watercrisis #usewaterwisely #mothernature #lackofcleanwater #dunyasugunu #healtheworld #unicef #unicefreport

A post shared by JMS Uluslararası Taşımacılık (@jmsuluslararasitasimacilik) on

पर्यावरण, स्वास्थ्य, कृषि और व्यापार सहित जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में जल के महत्व की ओर लोगों की जागरुकता बढ़ाने के लिये पूरे विश्व भर में विश्व जल दिवस मनाया जाता है।
इसे विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम और क्रियाकलापों के आयोजनों के द्वारा मनाया जाता है जैसे दृश्य कला, जल के मंचीय और संगीतात्मक उत्सव, स्थानीय तालाब, झील, नदी और जलाशय की सैर, जल प्रबंधन और सुरक्षा के ऊपर स्थानीय, राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर परिचर्चा, टीवी और रेडियो चैनल या इंटरनेट के माध्यम से संदेश फैलाना, स्वच्छ जल और संरक्षण उपाय के महत्व पर आधारित शिक्षण कार्यक्रम, प्रतियोगिता तथा ढ़ेर सारी गतिविधियाँ। नीले रंग की जल की बूँद की आकृति विश्व जल दिवस उत्सव का मुख्य चिन्ह है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds