हम जानते हैं कि माता-पिता अपने लाडले बच्‍चों को जीवन में खुशहाल और सफल बनाने के लिए क्‍या कुछ करते हैं। टेक्‍सास (Texas) की एक सिंगल मॉं (single mom) ने अपने बेटे के चेहरे पर मुस्‍कान लाने के लिए ऐसा ही कुछ खास किया कि बेटा अपने स्‍कूल में होने वाले समारोह में हिस्‍सा लेने से न चूके।

ABC News के अनुसार टेक्‍सास के फोर्ट वर्थ (Fort Worth) की येवेट्टि वास्‍क्‍वेज़ (Yevette Vasquez) ने खुद को पिता की वेशभूषा में तैयार किया ताकि उसका 12 वर्षीय बेटा अपने स्‍कूल में हो रहा कार्यक्रम ”डोनट्स विद डैड” (Donuts with Dad) में हिस्‍सा लेने से वंचित न रहने पाए।

Credit: Facebook | Yevette Vasquez

तीन बच्‍चों की मां येवेट्टि ने बताया कि 1 सितम्‍बर 2016 को जब वह अपने बेटे ऐलिजाह (Elijah) को छोड़ने गई तो देखा कि पार्किंग में सामान्‍य से अधिक कारें थीं।

उसने कहा, “मैंने उससे पूछा, ‘क्‍या हो रहा है? क्‍या यहां कोई कार्यक्रम है लगता है मुझे यहां होना चाहिए’? उसने मुझसे कहा, ‘नहीं चिंता न करो। यह केवल डोनट्स विद डैड है। मैंने उससे कहा, तुमने मुझे क्‍यों नहीं बताया? और मजाक किया कि मैं उसके लिए एक पुरुष के रूप में तैयार हो सकती थी।” यह विचार सुनकर एलिजाह हैरान था।

येवेट्टि ने कहा, “वह ऐसा था, ‘अच्‍छा, मॉं हमें घंटी बजने से पहले 10 मिनट मिले हैं! जब मैंने देखा कि वह इसको लेकर किस तरह उत्‍साहित था इसलिए मैंने सोचा कि इसे पूरा करूं।”

Credit: Facebook | Yevette Vasquez

येवेट्टि तुरंत घर वापस पहुंची और दोबारा स्‍कूल पहुंचने से पहले पुरुषों की तरह शर्ट पहनी, बेसबाल (baseball) टोपी सिर पर लगाई और नकली मूछें चिपकाई।

उसके इस काम ने उसके बेटे का दिन बना दिया। येवेट्टि ने कहा, “जब हम लाइब्रेरी में गए तो वहां पुरुषों का पूरा झुंड था और उनमें से अधिकांश खुशियां मना रहे थे। वास्‍तव में ऐलिजाह काफी मुस्‍करा रहा था। यह बहुत मजेदार था और निश्चित ही हमने डोनट्स पाए।”

Credit: Facebook | Yevette Vasquez

कार्यक्रम के बाद येवेट्टि ने बेटे की मंशा पूछने के पश्‍चात फेसबुक पेज पर तस्‍वीरें पोस्‍ट की

पोस्‍ट में उसने लिखा, ”मैं जानती हूं कि दूसरे पिताओं काे उनके बच्‍चों के साथ देखना मेरे लिए आसान नहीं है लेकिन यह जीवन है। कम से कम मैं ही उसके चेहरे पर खुशी लाने के लिए कुछ कर सकती हूं।”

वह कहती है, ”एकल माता-पिता के बारे में जानती हूं कि वे अन्‍य माता-पिता बिना भी संपूर्ण, सिद्धहस्‍त और असीमित हैं। मेरे तीन बेटे मेरा प्‍यार हैं और मैं आशान्वित हूं कि मैं बिना पिता के चरित्र के बिना ही उन्‍हें अद्भुत पुरुष, पिता और पति बना सकती हूं।”

Credit: Facebook | Yevette Vasquez

यदि आप इस बात को लेकर चमत्‍कृत हो गए हों कि स्‍कूल में केवल पिताओं के लिए कार्यक्रम है तो ऐसा नहीं है, येवेट्टि ने कहा कि इसी तरह ”मफिन्‍स विद मॉम” भी स्‍कूल ने किया।

दिन के अंत में वेशभूषा के बारे में येवेट्टि ने कहा कि वह केवल एक अनाड़ीपना और मजाकिया था जिससे उसका बेटे खुश रहे और हंसे।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds