इन व्यक्ति के पास एक पुराना कंबल था जो उनके परिवार में पीढ़ियों से था। जब तक उन्होंने “एंटीक रोडशो” (Antiques Roadshow) कार्यक्रम में भाग नहीं लिया था तब तक उन्हें इसका वास्तविक मूल्य ज्ञात नहीं था। बुने हुए इस पुराने टुकड़े के वास्तविक मूल्य को जानकर वह अचम्भित रह गए।

कल्पना कीजिए कि आपके पास एक पुराना कंबल है जो घर पर केवल सजावट के रूप में कार्य करता है। यह एक सुंदर कंबल है जिसे आप देखना और कभी-कभी अपने मेहमानों को इसके इतिहास के बारे में बताना पसंद करते हैं। लेकिन क्या दशलक्ष वर्षों में भी आपने कभी यह सोचा होगा कि यह एक “राष्ट्रीय खजाना” है और इसका मूल्य सैकड़ों हजार डाॅलर है—हालांकि यह परिदृश्य पूरी तरह से काल्पनिक लगता है, यह असंभव नहीं है—टेड (Ted) नामक एक पुरूष ने 2002 में टक्सन (Tucson) में “एंटीक रोडशो” पर इसका अनुभव किया था।

टेड को कंबल के बारे में जो भी पता था वह यह था कि इसे पौराणिक पश्चिमी सीमावर्ता किट कार्सन (Kit Carson) द्वारा दिया गया था और यह संभवत: एक नवाजो (Navajo) कंबल था। यह अंतत: उनकी दादी के पालक पिता की अगली पीढ़ियों से प्राप्त हुआ था। किसी विशेषज्ञ ने पहले इस कंबल को कभी नहीं देखा, जब तक कि यह कार्यक्रम में दिखाया नहीं गया।

©YouTube Screenshot | Antiques Roadshow PBS

जब मूल्यांकक, डोनाल्ड एलिस (Donald Ellis), ने कंबल को देखा, तो वे अचंभित हो गए। टेड को मूल्यांकक की प्रतिक्रिया पर आश्चर्य था, लेकिन अब तक उन्हें संदेह नहीं हुआ कि उन्होंने इस तरह की प्रतिक्रिया क्यों की। टेड जानते थे कि शायद यह एक प्रमुख कंबल था और एक दिलचस्प वस्तु हो सकता, लेकिन बस इतना ही।

मूल्यांकन के पश्चात, यह ज्ञात हुआ कि कंबल “प्रथम चरण नवाजो” बुनाई का एक दुर्लभ उदाहरण था। कंबल के रूपांकन में भूरी, नीली और सफेद पट्टे और पट्टियां शामिल थीं और यह समस्त 19 शताब्दियों के नवाजो कंबल का सबसे सरल रूप था। प्रथम चरण कंबलों के 50 से कम, जो कि लगभग 1865 तक बनाए गए थे, बचे हुए थे। तो यह कोई आश्चर्य नहीं है जो डोनाल्ड एलिस ने कहा, “जब आप इसे लेकर अंदर आए, मैं तो बस मर ही गया।”

©YouTube Screenshot | Antiques Roadshow PBS

डोनाल्ड ने जारी रखा, “[…] यह नवाजो-निर्मित है। वे उते (Ute) प्रमुखों के लिए बने थे। और वे उस समय बहुत, बहुत मूल्यवान थे। यह एक प्रकार का … अपने शुद्धतम रूप में यह नवाजो बुनाई है। ये सभी चीज़े जो हम बाद में हीरों और सभी प्रकार के विभिन्न प्रारूपों में देखते हैं, इससे बहुत बाद में आती हैं। यह केवल शुद्ध रेखीय रूपांकन है।”

“इस की स्थिति अविश्वसनीय है”, उन्होंने कहा, जिसमें अंतर्निहित किया गया कि कंबल की उम्र के लिए, यह उत्कृष्ट आकार में था।

लेकिन सबसे अच्छा हिस्सा तब आया जब डोनाल्ड ने कंबल के संभावित मूल्य का वर्णन किया। “एक वास्तविक खराब दिन पर इसकी कीमत $350,000 होगी। एक अच्छे दिन, यह लगभग आधे दशलक्ष डाॅलर का है,” उन्होंने कहा। “क्या बात है महोदय, आपके पास एक राष्ट्रीय खजाना है।” टेड की आँखों में आँसू आ गए!

©YouTube Screenshot | Antiques Roadshow PBS

इसके पश्चात टेड का बहुत जल्द निधन हो गया, लेकिन एक बड़ी धनराशि के लिए कंबल को डेट्रायट इंस्टीट्यूट आॅफ आट्र्स (Detroit Institute of Arts) को बेच दिया गया। धनराशि का उपयोग टेड के परिवार की सहायता के लिए किया गया।

कहानी इस अर्थ में हमें प्रेरणा देती है कि हमारे पास जो है हम उसकी कद्र करें।

Share