मोदक (Steamed Dessert Dumplings) महाराष्ट्र में खाया जाने वाला, गणेश जी का प्रिय व्यंजन है। महाराष्ट्र में, गणेश पूजा के अवसर पर मोदक (Rice modak) घर-घर में बनाया जाता है। यह बच्चों और बड़ों सबको पसंद आता है और इसे बनाना भी बहुत आसान है।

Image result for pics of modak
Credit: en.wikipedia

आवश्यक सामग्री
चावल का आटा: 2 कप
दरदरा गुड़: 1 कप से थोड़ा ज्यादा
नारियल: 2 कप (कद्दूकस किया हुआ)
खसखस: एक बड़ा चम्मच
इलायची पाउडर: आधा बड़ा चम्मच
घी:जरुरत अनुसार

Image result for pics of modak
Credit: hungryforever

बनाने की विधि

1. सबसेे पहले गैस पर एक बर्तन में लगभग सवा कप पानी गर्म करें।

2. दूसरे बर्तन में चावल का आटा डालें और गर्म पानी के साथ मिलाकर उसे गूँधें। आटे को नर्म होने के लिए 10 मिनट के लिए ढंक कर रख दें।

3. अब एक नॉन-स्टिक पैन में गुड़ डालकर धीमी आंच पर 1 से 2 मिनट तक गर्म करके पिघला लें।

4. उसके बाद गुड़ में नारियल, खसखस और इलायची पाउडर मिलाकर धीमी आंच पर 4 से 5 मिनट के लिए पकाएं। जब सारा मिश्रण थोड़ा सख्त हो जाए तो गैस बंद करें। अब इस सामग्री को थोड़ी देर के लिए ठंडा होने दें।

Related image
Credit: indianhealthyrecipes

5. इसके बाद चावल के आटे में आधा चम्मच घी डालकर थोड़ा और गूंध लें।

6. मोदक बनाने के लिए सांचे (मोदक को आकार देने वाला सांचा) में थोड़ा घी लगाएं और चावल का आटा सांचे के अंदर के किनारों पर चारों तरफ लगाएं।

7. उसके बाद गुड़ का मिश्रण चावल के आटे के बीच में भरें और फिर सांचे के ऊपरी सिरे को अच्छे से जोड़ दें। अब सांचा खोलकर मोदक निकाल लें। इसी तरह बाकी सामग्री से सारे मोदक को आकार देकर तैयार कर लें।

8. यदि आपके पास सांचा नहीं है तो नीचे दिखाए गए तरीके से भी आप मोदक को आकार दे सकते हैं।

Image result for pics of preparation of modak
Credit: prabhujihaldiram

8. अब एक बर्तन में पानी गर्म करें और उसके ऊपर स्टील की छलनी में केले का पत्ता रखें। फिर मोदक पर उंगलियों से थोड़ा पानी लगाकर गीला कर लें और 6 से 7 मोदक केले के पत्ते पर रखकर बर्तन को ढ़क दें।

9. धीमी आंच पर 8 से 10 मिनट तक मोदक भाप में पकने दें। इसी तरह सारे मोदक तैयार करें।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds