एक ऑरंगुटन जिसको एक चूजे के पिंजरे से बचाया गया, अब उसके स्वास्थ्य में आश्चर्यजनक परिवर्तन आया।

IAR ने कहा, एक छोटा ऑरंगुटन (orangutan) जिसका नाम बुडी था, उसे इंटरनेशनल एनिमल रेस्क्यू (International Animal Rescue) टीम द्वारा दिसम्बर 2014 में बचाया गया था। बुडी को एक पालतू जानवर की तरह चूजे के पिंजरे में रख दिया गया था और उसे सिर्फ गाढ़ा दूध ही पिलाया जाता था।

YouTube Screenshot | Barcroft TV

बुडी के मालिक जिन्होंने उसे अपने पास रखा था, डर और अज्ञानता के कारण उन्हें लगता था कि गाढ़ा दूध ही उसके लिए काफी है, जिसके कारण बुडी गंभीर कुपोषण का शिकार हो गया। बुडी का शरीर सूज गया था और व्यायाम की कमी के कारण झुक गया था। अपनी कमजोरी के कारण वो हाथ-पैर भी ठीक से नहीं हिला सकता था।

इंडोनेशिया (Indonesia) में आईएआर (IAR) के प्रोग्राम निदेशक डॉ. करमेले एल. सांचेज़ (Dr. Karmele L Sanchez) ने कहा, “जब-जब डॉक्टर उसे इधर-उधर घुमाते वह चिल्ला उठता और उसकी आँखें आसूँओं से भर जाती। यह सच में आश्चर्यजनक था कि बुडी अभी भी ज़िन्दा था।”

YouTube Screenshot | Barcroft TV
YouTube Screenshot | Barcroft TV
YouTube Screenshot | Barcroft TV

जल्दी से आगे बढ़ते हैं, अब बुडी पेड़ पर चढ़ और झूल सकता है। आईएआर टीम ने कहा, उसके स्वास्थ्य में अच्छा सुधर हुआ है। वो अब “बेबी स्कूल” से निकलकर “फारेस्ट स्कूल” में चला गया है और जंगल में विचरण करने के लिए उत्सुक है।

आईएआर टीम के एक सदस्य हेरिबर्टस सुसीआडी (Heribertus Suciadi) ने कहा, जब हम बुडी को खाने-पीने की चीजें देते तो वह बहुत उत्साहित हो जाता। वह सब कुछ भूल सकता था लेकिन खाना पीना नहीं। वह अब इंसान पर निर्भर नहीं रहता है, इसका अर्थ यह है कि उसे अब अपने आप पर विश्वास हो चला है। उसने अपना घोंसला बनाना शुरू कर दिया है और अपने दोस्तों के उसे साझा करने की इच्छा नहीं रखता। बुडी अब सच्चा दिलेर है।

YouTube Screenshot | Barcroft TV
YouTube Screenshot | Barcroft TV
YouTube Screenshot | Barcroft TV

YouTube Screenshot | International Animal Rescue IAR

 वास्तव में, वे जानवरों के बचाव घर में अच्छा काम कर रहे हैं… हालाँकि यह सच में कड़ी मेहनत का काम है।

YouTube Screenshot | International Animal Rescue IAR
Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds