गलत खान-पान और जीवन-शैली के कारण महिलाओं में बहुत-सी बीमारियों का खतरा बढ़ता जा रहा है। महिलाएं पुरूषों के मुकाबले शारीरिक रूप से कमजोर मानी जाती हैं। इसलिए उन्हें बीमारियों का खतरा भी सबसे ज्यादा होता है। आज हम आपको कुछ ऐसी बीमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं जो कि पुरूषों के मुकाबले औरतों को तेजी से अपना शिकार बनाती हैं। वैसे तो महिलाओं को यह बीमारियां ज्यादातर मेनोपॉज के बाद होती हैं लेकिन फिर भी उन्हें पहले ही सचेत रहना चाहिए। 

Image result for diseases in women
Credit: Updated Trends

आइए जानते हैं ऐसी ही कुछ बीमारियां जो पुरूषों के मुकाबले महिलाओं को तेजी से अपना शिकार बनाती हैं:

1. दिल से जुड़ी बीमारियां!

Image result for diseases in women
Credit: The Indian Express

पुरूषों के मुकाबले महिलाओं में ह्रदय रोग की समस्या ज्यादा देखने को मिलती है। दिल के रोगों के साथ-साथ महिलाओं में हार्ट अटैक का खतरा भी बढ़ता जा रहा है।

2. ब्रैस्ट कैंसर!

Image result for breast cancer in women
Credit: Times Now

ब्रेस्ट कैंसर का खतरा आजकल पुरूषों में भी बढ़ता जा रहा है लेकिन महिलाएं इसकी चपेट में ज्यादा तेजी से आती हैं। इतना ही नहीं, महिलाओं में ब्रैस्ट कैंसर की बीमारी कम उम्र में भी देखने को मिल रही है। इसलिए इसके लक्षण दिखने पर तुरंत जांच करवाएं।

3. डायबिटीज!

Image result for diabetes in women
Credit: Pregnancy, Birth and Baby

डायबिटीज (Diabetes) यानी मधुमेह की समस्या से आज के समय में कई लोग पीड़ित हैं, खासकर महिलाएं। गलत खान-पान से होने वाली इस समस्या में शरीर में इंसुलिन बनना बंद हो जाता है, जिससे पेंक्रियाज ग्रंथी सही तरीके से काम करना बंद कर देती है। इस बीमारी से बचने के लिए अपनी जीवन-शैली में सुधार करें।

4. गठिया!

Image result for arthritis in women
Credit: KWSIC

शारीरिक कमजोरी, व्यायाम न करना और खान-पान में गड़बड़ी के कारण गठिया रोग भी पुरूषों के मुकाबले महिलाओं को तेजी से अपनी चपेट में ले रहा  है। इतना ही नहीं, रूमेटॉइड अर्थराइटिस (rheumatoid arthritis) और ऑस्टियोपोरोसिस (oesteoporosis) रोग भी पुरूषों के मुकाबले औरतों में ज्यादा देखने को मिलता है।

5. सर्वाइकल कैंसर!

Image result for cervical cancer in women
Credit: Troab

सर्वाइकल कैंसर (Cervical Cancer) एक ऐसी बीमारी है जो महिलाओं को किसी भी उम्र में हो सकती है। इसे फाइब्राइड,रसौली या फिर ट्यूमर के नाम से भी जाना जाता है।  35 साल से ज्यादा उम्र की महिलाओं को इसका खतरा सबसे ज्यादा होता है। औरतों के लापरवाही बरतने के कारण उनमें यह कैंसर तेजी से बढ़ता जा रहा है।

6. वल्वर कैंसर!

Image result for vulvar cancer in women
Credit: ALPHA PROLIPSIS

वल्वर कैंसर (Vulvar Cancer) भी एक गंभीर रोग है। यह कैंसर महिलाओं के गुप्तांगों के बाहरी हिस्से में होता है। पेशाब करते समय जलन, खुजली या फिर रक्त-स्त्राव होना आदि इसके संकेत हो सकते हैं। इस तरह के लक्षण दिखने पर आपको तुरंत जांच करवानी चाहिए।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds