दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनियों में से एक में, एक भारतीय मूल के वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर तकनीकी स्थितियों के समाधान ढूंढ निकालने का काम करते हैं। उन्होंने प्रतिष्ठित कोलंबिया विश्वविद्यालय (Columbia University) से पीएच.डी. (Ph.D.) की डिग्री प्राप्त की है और उन्होने दुनिया के दो सर्वोच्च निवेश बैंकों, जैसे गोल्डमैन सैक्स (Goldman Sachs) और मेरिल लिंच (Merrill Lynch) में काम किया है—लेकिन अभी भी इस सिएटल आधारित तकनीकी विशेषज्ञ का जीवन के प्रति एक बहुत सकारात्मक और सरल दृष्टिकोण है।

एनटीडी (NTD) से बात करते हुए, उन्होंने साझा किया कि फालुन दाफा, एक प्राचीन ध्यान प्रणाली के सार्वभौम सिद्धांत—सत्य-करुणा-सहनशीलता ने उनके ह्रदय को छुआ है।

Image courtesy of Suman Srinivasan

चेन्नई (Chennai), भारत से, सुमन श्रीनिवासन (Suman Srinivasan) एक सफल परिवार के सदस्य हैं, जिसमें चार इंजीनियर और एक डॉक्टर उपस्थित हैं। बढ़ते हुए, वह एक बुद्धिमान बच्चे थे और पुस्तकें पढ़ना अधिक पसंद करते थे—और यह संभवतः वह पहला कदम था जो उन्होंने अपने भविष्य के लिए आगे बढ़ाया था।

एनटीडी के साथ एक साक्षात्कार में, श्रीनिवासन ने कहा, “मैंने अधिकांश समय किताबें पढ़ने में बिताया, दोनों, काल्पनिक और गैर-काल्पनिक। मुझे विश्वकोश पढ़ना पसंद था! मुझे वास्तव में खेल में रूचि नहीं थी, जो अन्य बच्चे बहुत पसंद करते है, बल्कि, मैं अपने कमरे में रहकर पढ़ना पसंद करता था।”

2001 में, फ्लोरिडा विश्वविद्यालय (University of Florida) में इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में अपनी डिग्री हासिल करने के लिए श्रीनिवासन फ्लोरिडा चले गए।

संयुक्त राज्य में रहना आसान नहीं था। उन्होंने समझाया “एक ओर, मैं अपने जीवन की एक नई शुरुआत के लिए उत्साहित था, लेकिन दूसरी ओर, मुझे लगा कि मैं परिवार छोड़ने और एक नई जगह पर जाने के लिए तैयार नहीं था। मेरे परिवार ने हमेशा मेरी देखभाल की थी, और मैं एक संरक्षित वातावरण में बड़ा हुआ था। तो अचानक, अब मुझे खुद का ख्याल रखना पड़ा। “

Image courtesy of Suman Srinivasan

कुछ महीनों के भीतर, चीजों ने इस युवा लड़के के लिए एक अप्रत्याशित मोड़ लिया। यह ऐसा था जैसे किसी उच्च शक्ति ने उनके ह्रदय में  “जीवन का सही अर्थ” खोजने की चाहत पैदा की थी।

“यू.एस. जाने के करीब एक साल पहले, मुझे आध्यात्मिक किताबों में दिलचस्पी थी, और मैं जीवन के अर्थ को समझने की कोशिश कर रहा था,” उन्होंने कहा। “जब फ्लोरिडा के फालुन दाफा के छात्र क्लब ने मुझे एक पर्चा दिया, तो मैंने अभ्यास करने का निर्णय लिया और फिर फालुन दाफा की किताबें पढ़ीं। फालुन दाफा के अभ्यास के कुछ महीनों के बाद, मुझे एहसास हुआ कि यह वही है जो मैं अपने सारे जीवन में तलाश कर रहा था और इसने मेरे सारे सवालों का जवाब दिया। “

Credit: Dai Bing/ Epochtimes

लेकिन श्रीनिवासन ने साझा किया कि यह केवल इस बात पर ही नहीं रुका रहा, बल्कि उन्होंने इस अभ्यास से काफी लाभ उठाया, दोनों शारीरिक और साथ ही साथ आध्यात्मिक रूप से। उन्होंने कहा, “मैं अभ्यास शुरू करने के तुरंत बाद एक बच्चे की तरह आराम से सो पाता था। इसके अलावा, मेरे बचपन से जो माइग्रेन और सिरदर्द की समस्या थी, बस चली गई। मैंने एक और लाभ का अनुभव किया था, वह यह कि मेरा पेट बहुत अधिक संवेदनशील था और मैं सिर्फ साधारण और मानक भोजन खाने में सक्षम था। लेकिन अभ्यास शुरू करने के बाद, मैं किसी भी समस्या के बिना, शाही, स्वादिष्ट भोजन खा सकता था।”

उन्होंने कहा, “मुझे जीवन अब कम तनावपूर्ण और अधिक शांतिपूर्ण लगने लगा था, और साथ ही, मेरे जीवन के सभी पहलू, बेहतर, और बेहतर होने लगे थे।”

फ्लोरिडा विश्वविद्यालय में अपनी मास्टर की डिग्री प्राप्त करने के बाद, अध्ययनशील श्रीनिवासन ने पीएचडी के लिए सबसे प्रतिष्ठित आइवी लीग (Ivy Leagues) में से एक, कम्प्यूटर साइंस में – कोलंबिया विश्वविद्यालय में आवेदन किया। 2005 में उनकी भर्ती हुई और उन्होंने पीएचडी की शुरुआत की। इस कार्यक्रम को पूरा करने में उन्हें 6 साल लग गए।

उन्होंने कहा, “एक पीएच.डी. विभिन्न कारणों से कठिन है। शुरुआत में, काम का बोझ होता है। अंत में, कुछ नया और अभिनव उत्पादन करने का दबाव होता है। मुझे यह भी समझ में आया कि बहुत से लोग क्यों छोड़ देते हैं जब वे पीएचडी में आधे या उससे भी आगे निकल चुके होते हैं। मैं अपने आप को भाग्यशाली समझता हूँ कि मेरी आध्यात्मिक पृष्ठभूमि और जीवन के दृष्टिकोण ने मुझे मेरी पीएचडी पूरी करने में सक्षम बनाया।”

सुमन ने कोलंबिया विश्वविद्यालय से पीएचडी की (Image courtesy of Suman Srinivasan)

जब श्रीनिवासन, कोलंबिया विश्वविद्यालय में पढ़ रहे थे, वे अमेरिका के दो पेटेंटों में सह-लेखक रहे। जब कोई आगे के रास्ते पर इस तरह ध्यान केंद्रित करता है तो स्वाभाविक है कि वह एक सफल कैरियर बनाएगा। पिछले कुछ सालों में, श्रीनिवासन मैनहट्टन (Manhattan) में, वॉल स्ट्रीट (Wall Street) की, शीर्ष निवेश बैंकों में से दो, गोल्डमैन सैक्स (Goldman Sachs) और मेरिल लिंच (Merrill Lynch) में काम कर चुके है।

एक प्रतिस्पर्धी दुनिया में एक पेशेवर होने के नाते, निश्चित रूप से उतार चढ़ाव आते हैं। लेकिन श्रीनिवासन ने कहा कि उनके आध्यात्मिक विश्वास ने उन्हें आंतरिक साहस और आत्मविश्वास दिया जिससे उन्हें अपने काम में उत्कृष्टता मिली।

“फालुन दाफा का ध्यान मुझे काम पर अधिक स्थिर, आध्यात्मिक और शांत रहने में मदद करता है। मैं समस्याओं के बारे में सोचने में सक्षम हूं, तकनीकी समस्यओं के बारे में भी, एक स्पष्ट मस्तिष्क के साथ, और फिर समस्या का समाधान ढूंढ लेता हूँ। “

Credit: Edward Dai/ Epoch Times

1992 में फालुन दाफा (जिसे फालुन गोंग भी कहा जाता है) चीन में पेश किया गया था और इसके गहन स्वास्थ्य लाभ के कारण बेहद लोकप्रिय हुआ। अनुमान है कि 1990 के दशक के अंत में 70-100 मिलियन से अधिक लोग अकेले चीन में फालुन दाफा का शांतिपूर्ण ध्यान अभ्यास कर रहे थे। लेकिन जुलाई 20, 1999 को, चीनी कम्युनिस्ट शासन के पूर्व नेता, जिआंग जेमिन ने फालुन दाफा के शांतिपूर्ण अभ्यास के खिलाफ एक अवैध, राष्ट्रव्यापी अभियान की घोषणा की।

श्रीनिवासन ने अभ्यास शुरू करने से पहले ही, पहली बार मुख्यधारा के मीडिया से ही सुना था कि फालुन दाफा चीनी कम्युनिस्ट शासन के हाथों उत्पीड़न का सामना कर रहा है। उन्होंने कहा, “लेकिन जब मैंने अभ्यास करना शुरू कर दिया, तो मैं और अधिक जागरूक हो गया कि वास्तव में चीन में फालुन दाफा का उत्पीड़न कितना क्रूर था।”

Credit: Edward Dai/Epoch Times

मैं उत्पीड़न के बारे में जागरूकता पैदा करने ने स्थानीय गतिविधियों में शामिल होने लगा और मैंने भी इसका आयोजन शुरू कर दिया। चीन में क्या हो रहा है, यह बताने के लिए ऑनलाइन प्रयासों के साथ मैं अधिक से अधिक शामिल हो गया।”

जब श्रीनिवासन को जीवन के उत्तम “कोड” के बारे में पुछा गया तो उन्होंने कहा, “सॉफ्टवेयर इंजीनियर के तौर पर आपको सिस्टम्स के निर्माण के लिए सिखाया जाता है, जो स्केल, कार्यात्मक, मजबूत और एक सुखद या कम से कम अच्छा उपयोगकर्ता अनुभव प्रदान करते हैं। मुझे लगता है कि जीवन एक नैतिक व्यक्ति के रूप में बहुत ही समान है, आप अपने आसपास के लोगों को प्रसन्न होने में मदद करने की कोशिश से स्वयं को बड़े पैमाने पर बनाने, कार्यात्मक बनाने, और लोगों को खुश रखने की कोशिश करते रहते हैं।”

सभी जटिलताओं के बीच जो तकनीकी दुनिया लाती है, इस सॉफ्टवेयर इंजीनियर का उद्देश्य इन्हें एक समय में एक क्लिक से जीवन को एक सरल कोड में अनुवाद करना है।

चूंकि आप यहां हैं, अगर आप इस लेख को पसंद करते हैं, तो कृपया इसे साझा करें।

 


संपादक का संदेश:

फालुन दाफा (फालुन गोंग के नाम से भी जाना जाता है) सत्य, करुणा और सहनशीलता के सार्वभौम सिद्धांतों पर आधारित एक आत्म-सुधार की ध्यान प्रणाली है, जो स्वास्थ्य और नैतिक चरित्र को सुधारने और आध्यात्मिक ज्ञान प्राप्त करने के तरीके सिखाती है।

यह चीन में 1992 में श्री ली होंगज़ी द्वारा जनता के लिए सार्वजनिक किया गया था। वर्तमान में 114 देशों में 100 मिलियन से अधिक लोगों द्वारा इसका अभ्यास किया जा रहा है। लेकिन 1999 के बाद से इस शांतिपूर्ण ध्यान प्रणाली को क्रूरता से चीन में उत्पीड़ित किया जा रहा है।

अधिक जानकारी के लिए, कृपया देखें:  falundafa.org and faluninfo.org. सभी पुस्तकें, अभ्यास संगीत, अन्य सामग्री और निर्देश पूरी तरह से निःशुल्क, कई भाषाओँ में (हिन्दी में भी) उपलब्ध हैं।

https://www.facebook.com/NTDHindi/posts/1795557680740448

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds