सेना के इन सेवानिवृत्त सैनिक ने सोचा था कि वह कभी भी विमान उड़ाना नहीं सीख सकते। लेकिन पशुओं की मृत्यु से उत्प्रेरित, वह एक लाइसेंस प्राप्त करने में कामयाब रहे और उन्होंने $65,000 ((₹41,64,000)) का एक हवाई जहाज को खरीदने में खर्च कर दिए। वह हवा में अपने नए कार्यभार को अद्भुत रूप से पुरस्कृत पाते हैं।

श्वान्क्सविल, पेनसिल्वेनिया (Schwenksville, Pennsylvania) से 45 वर्ष के पाॅल स्टाक्लेन्स्की (Paul Steklenski), ने पशु हत्या स्थलों में पशुओं को मार डालने से बचाने के लिए एक हवाई जहाज खरीदने हेतु $65,000  खर्च कर दिए।

डेली मेल (Daily Mail) रिपोर्ट के अनुसार, स्टाक्लेन्स्की ने कहा है कि मई 2015 में फ्र्लाइंग फर (Flying Fur) पशु बचाव की स्थापना की तब से 742 पशुओं को बचाया है।

स्टाक्लेन्स्की, अमरीकी सेना के आठ वर्ष पूर्व सैनिक, के लिए उड़ना सीखना कठिन था, लेकिन उन्हें चुनौती का सामना करने की इच्छा थी क्योंकि उनका लक्ष्य दूसरों से भिन्न था।

“जब मैंने उड़ान भरना शुरू किया, तब ऐसा कई बार होता था कि मैं छोड़ना चाहता था क्योंकि मुझे ऐसा नहीं लगता था कि मैं ऐसा कर सकता हूँ, लेकिन मैंने वापस आना जारी रखा,” स्टाक्लेन्स्की ने कहा।

“बहुत से पायलट रेस्तरां या अच्छे स्थलों को जाने के लिए उड़ान भरना पसंद करते हैं और यह बहतु अच्छा है, लेकिन मेरे लिए हवा में जाने का एक अलग कारण था।”

उन्होंने समझाया कि उन्होंने एक प्रमाणित पायलट बनने के लिए इतनी मेहनत क्यों की: “आश्रय में कुत्तों को देखना बहुत ही हृदयविदारक था। यह सोचना भयानक था कि इतने पशुओं की हत्या की जाती है क्योंकि वे एक निश्चित क्षेत्र में फंस गए हैं।”

उन्होंने पाया कि पशु जनसंख्या की समस्या दक्षिण की ओर बढ़ते हुए अधिक गंभीर है।

वे इस स्थिति को देखकर परेशान थे इसलिए उन्होंने उन बेचारे जानवर जो कि हत्या के लिए सूचीबद्ध थे, उन्हें न्यूजर्सी (New Jersey) और पेंसिल्पेनिया (Pennsylvania) के आसपास के आश्रय स्थलों में स्थानांतरित करने का निर्णय लिया जहाँ पर उन पशुओं की हत्या निषेध है।

बिल्ल्यिों और कुत्तों की विमान में थोड़ी से भीड़ हो जाती थी, जो कभी-कभी 23 पशुओं तक को ले जा सकता है, इसके अलावा वे उन्हें बहुत अधिक परेशान नहीं करते थे।

“इंजन शुरू होने के बाद, वे सो जाते हैं, या जागते रहे तो खिड़कियों के बाहर देखते रहते है।”

“यह हमेशा शांत रहते हैं। मुझे कभी भी कोई समस्या नहीं हुई है। मुझे लगता है कि वे जानते हैं कि उनके लिए कोई बेहतर बात होने जा रही है।”

स्टाक्लेन्स्की इस अवस्था में पाए गए पशुओं के लिए लोगों को अधिक चिंता करने प्रोत्साहित करते हैं।

“यह बहुत पुरस्कारणीय है। इससे केवल उस पशु को ही नहीं फर्क पड़ता है बल्कि—वह कुत्ता या बिल्ली किसी अन्य के जीवन को प्रभावित करने वाला हैं।”

Photo credit: Facebook | Flying Fur Animal Rescue.

Share