अधिकाँश लोगों को कुत्तों के प्रति अपने प्रेम के कारण उन्हें पालना बहुत पसंद होता है. ज़्यादातर लोग स्वस्थ कुत्तों को ही पालना चाहते हैं और जैसे ही उन्हें पता चलता है कि उस कुत्ते को कोई रोग या समस्या है, वह उसे छोड़ देते हैं. हालांकि मनुष्य कभी-कभी स्वार्थी हो जाता है लेकिन कुत्ते किसी भी परिस्थिति में अपने मालिक का साथ नहीं छोड़ते और वे हमेशा अपने आस-पास के माहौल को खुशनुमा बना देते हैं. यह सफ़ेद रंग का कुत्ता भी बहुत ही बुरी स्थिति में था और उसे तुरंत इलाज की ज़रुरत थी, लेकिन इस महिला ने उसकी जान बचाने में देर नहीं लगाई.

Credits: Facebook | WatchDogMary

पशु-बचाव स्वयंसेवक होली डीन टेक्सास (Texas) के सैन एंटोनियो (San Antonio) की रहने वाली हैं. उन्हें जब अपने घर के पास कुछ कुत्तों को जंजीरों में बांधे जाने की बात पता चली तो उन्होंने तुरंत ही उन्हें बचाने का निर्णय कर लिया.

Credits: Facebook | WatchDogMary

उन कुत्तों के मालिकों ने उन्हें पशु-बचाव इकाइयों के पास छोड़ दिया था. डीन जब उन कुत्तों को देखने गई तो उन्हें ज़ंजीरों में बंधा देखकर वह दंग रह गई. उन्हें गले में पट्टा डालकर दिन-रात बाहर खड़ा कर दिया जाता था. उन सब कुत्तों के बीच एक सफ़ेद कुत्ते ने डीन का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित किया.

यह सफ़ेद कुत्ता कानों से सुनने में असमर्थ था और उसे खुजली की बीमारी भी हो गई थी. उसके शरीर पर पिस्सुओं के काटे जाने से संक्रमण भी हो गया था. खुजली करने की वजह से उसने स्वयं ही अपनी टांगों के बाल तक चबा डाले थे. उन्होंने तुरंत उसे बचाने का सोचा और उस 50 पौंड के कुत्ते का नाम “ब्लांको” रख दिया.

Credits: Facebook | WatchDogMary

हालांकि ब्लांको बहुत ही बुरी स्थिति में था लेकिन वह बहुत खुशमिजाज़ था और हमेशा अपनी पूँछ को हिलाता रहता था. एक महीने के समय में ही बहुत अच्छी देखभाल और टीके लगने के बाद अब वह बहुत ही सुन्दर लगने लगा. पूर्ण रूप से ठीक हो जाने के के बाद अब यह पता चलता है कि ब्लांको “लैब-डाल्मेशियन” की मिश्रित नस्ल का है और उसके शरीर के बाल भी बहुत आकर्षक हैं.

Credits: Facebook | WatchDogMary

ब्लांको और डीन के बीच होने वाली बातचीत बहुत मज़ेदार होती है क्योंकि ब्लांको के कुछ भी न सुन पाने के कारण वह अपने सिर को झुकाकर अपने मालिक द्वारा किए गए इशारों को समझने की कोशिश करता है और यह सब बहुत ही प्यारा लगता है.

Credits: Facebook | WatchDogMary

कुत्तों को बचाने का डीन का यह कोई पहला अनुभव नहीं है. इससे पहले भी उन्होंने “मिली” नामक एक कुत्ते की देखभाल की है. वह पीले रंग का “लैब” मिश्रित नस्ल का था और सैन एंटोनियो के एक कचरे के ढेर में ज़िन्दगी और मौत के बीच में झूल रहा था. मिली और ब्लांको डीन द्वारा बचाए गए 8 अन्य कुत्तों के साथ बहुत मज़े से खेलते हैं और अब उनका जीवन बहुत ही खुशहाल नज़र आता है. डीन के प्रयासों और इन ईमानदार कुत्तों के प्रति उनके प्रेम की जितनी सराहना की जाए उतनी ही कम है.

Share

वीडियो