देश में हर दिन कई रेलवे दुर्घटनाएं होती हैं. ऐसे में पीड़ित को चिकित्सा में जरा सी भी देर घातक साबित हो सकती है. इस बात को ध्यान में रखते हुए मुंबई के मध्य रेलवे ने आपातकालीन चिकित्सा कक्ष (ई एम आर) शुरू किआ हैं, वो भी मात्र एक रुपये में.

यह क्लीनिक उच्चतम न्यायालय द्वारा दिए गए आदेश से बनाया गया है, जिससे जरुरतमंद मरीजों को समय पर चिकित्सा प्राप्त हो सके. आपातकालीन चिकित्सा कक्ष ने विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर काम करना शुरु कर दिया है और कई जाने बचाइ है.

Credit: Mid-day

हाल ही में, उन्होंने एक 41 वर्षीय हृदय रोगी की सहायता की, जिनको दिल का दौरा पड़ने ही वाला था. क्लीनिक 24X7 चलती हैं. यहाँ पैथोलॉजी लैब्स भी हैं जहाँ कम कीमतों पर परीक्षण होता हैं. वर्तमान में, यह सुविधा मुंबई के सभी प्रमुख रेलवे स्टेशनों में मौजूद हैं.

Credit: Hindustan Times

यह एक अच्छी पहल है जो यात्रियों को बहुत बड़ी राहत देगी. यह क्लीनिक परामर्श शुल्क के रूप में केवल एक रुपया चार्ज लेते हैं, लेकिन आपातकाल के समय उपचार मुफ्त में किया जाता है. डीएनए के अनुसार, इसकी शुरूआत के एक महीने में ही 10,000 से अधिक लोगों को इससे लाभ हुआ है.

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds