क्या आप अपने जीवन में कुछ प्रेरणा चाहते हैं? ये रहा वो शख्स, जिन्हें दुनिया का शीर्ष पर्वातारोही माना जाता है, उन्होंने हाल ही में बिना किसी सुरक्षा उपकरण और रस्सी के सहारे, 3000ft ग्रेनाइड के पहाड़ पर चढ़ने की अविश्वसनीय उपलब्धि हासिल की है।

उत्तरी कैलिफोर्निया (Northern California) के 31 साल के एलेक्स हॉनोल्ड, बहुत अच्छी तरह से जानते हैं कि डर को कैसे पराजित किया जाता है। हाल ही में उन्होंने दावा किया है कि बिना किसी रस्सी या सुरक्षा उपकरण की सहायता के योसेमाइट नेशनल पार्क (Yosemite National Park) में 3000ft ऊंचे एल कैप्टन ग्रेनाइट दीवार (El Capitan granite wall) पर चढ़ने वाले वह पहले व्यक्ति हैं।

अल्पिनिस्ट पत्रिका (Alpinist Magazine) लिखती है कि, “यह निर्विवादित अब तक का  सबसे बड़ा स्वतंत्र एकल है।’

शनिवार, जून 3 को, 3 घंटे और 56 मिनट में एलेक्स एल कैप्टन के रेतिले किनारों पर पहुंचे, फिसलन वाले पहाड़ी सतह को पकड़ने में मदद के लिए मात्र चॉक के पाउडर का इस्तेमाल किया।

पर्वतारोही के क्षेत्र में जो सबसे उच्च माना जाता है, एलेक्स ने अपने बीते कुछ साल उस उपलब्धि को हासिल करने की तैयारी में पूरी तरह से केंद्रित करते हुए बिताये जो किसी और ने हांसिल नहीं किया है। वे कई बार रस्सी के सहारे इस दीवार पर चढ़ चुके हैं और जिस रास्ते को उन्होंने चुना था उससे वह भलीभांति परिचित थे, यहां तक कि उस मार्ग पर उन्होंने अपनी उंगलियों और पैरों की उंगलियों के निशान भी बना कर तैयार रखे थे, अपनी इस ऐतिहासिक चढ़ाई के लिए।

जब उन्होंने बिना किसी रस्सी की सहायता के इस चुनौति का निश्चय किया, उन्हें इसकी जटिलता का एहसास हुआ क्योंकि वे चढ़ाई के अपने जूते एल कैप्टन (El Capitan) के नीचे छोड़ आए थे।

उन्होंने नेशनल जियोग्राफी से कहा, “यह थोड़ा, पागलपंती जैसा लगता है।”

जब चढ़ाई शुरु हुई, तब चुनौतियों की शुरुआत हुई, उन्होंने कहा कि, “कुछ हिस्से खासतौर पर शीशे की चादर पर चलने जैसा था। अन्य कठिन परिस्थिति थी, “जैसे बिना सहारे के हाथों, पैरों को रखने की जगह, जैसे आप एक खाली दीवार पर टटोल रहे हों।”

कल्पना करना मुश्किल है? चढ़ाई की बस शुरुआत हुई थी। एलेक्स ने कहा कि, “इससे पहले (मुख्य) दीवार शुरु हो चुकी थी, यह वहां पहुचने जैसा था।”

2,300 फुट की ऊंचाई पर, पकड़ने का स्थान इतना संकरी था कि वे उसे बस अपने अंगूठे से पकड़ सकते थे।

नेशनल जियोग्राफी की एक रिपोर्ट के अनुसार, वैज्ञानिकों ने एलेक्स के दिमाग का अध्ययन किया, यह देखने के लिए की जब डर से निपटने की बात आती है तब उनका दिमाग सामन्य से कितना अलग है

एल कैप्टन (El Capitan): “ऐतिहासिक करतब और विलक्षण रास्ते” (Historic Feats and Radical Routes) के लेखक डेनियल डुअन (Daniel Duane) ने कहा, “अपने इस खेल में सबसे उपर वह बिल्कुल अकेले है।” ऐसा पहले कभी नहीं किया गया था…डेनियल ने कहा कि, “उन्होंने जो किया वैसा सोचना भी अन्य किसी शख्स के लिए बहुत मुश्किल है।”

डेनियल ने कहा कि, “ऐसे स्थान पर जहां छोटी सी चूक वास्तव में आपके मौत का कारण बन सकती है, वहां बिना रस्सियों के चढ़ने के लिए अत्यधिक आत्म-नियंत्रण और ध्यान देने की आवश्यकता होती है। डर को दरकिनार करने और अापके सामने जो कार्य है उस पर ध्यान केंद्रत करने कि लिए तीव्र संज्ञानात्मक मेहनत की ज़रुरत होती है।”

उनकी तैयारी दुष्कर थी, वह एक हाथ पर पुल-अप करते थे और अपने उंगलियों के बल घंटों तक लटके रहते थे। इसमें किस तरह के संयम की आवश्यकता होती है?

लेकिन उनके सभी कठिन कार्य और कुशल चौकसी का फल उन्हें मिल गया, उन्होंने कुछ अनोखा किया।

जब आपको जीवन में किसी प्रेरणा की आवश्यकता होती है, जब चीज़ें बहुत मुश्किल लगती हैं, एलेक्स के बारे में सोचिए। यह बस असंभव लग रहे कार्य को पूरा करने में मदद करेगा, जैसा कि उन्होंने किया।

Images Source: Facebook | Jimmy Chin

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds