क्या कुत्तों को सिर्फ इंसानों का सबसे अच्छा दोस्त कहना काफी होगा? यह कहानी भी कुछ ऐसी ही है जो हमें सोचने पर मजबूर कर देगी कि क्या कुत्तों को दिया गया सबसे अच्छे दोस्त का शिर्षक पर्याप्त होगा…

डेको (Dayko) 4 साल का एक लैब्राडोर, आपतकालीन बचाव कार्य के दौरान इसे प्रशिक्षित किया गया और इसने इक्वाडोर (Ecuador) के इबारा फायर स्टेशन (Ibara Fire Station) पर साढ़े तीन सालों तक काम किया। अप्रैल 16, 2016, इक्वाडोर में भूकंप का झटका आया। अपने जीवन की चिंता किए बगैर इस कुत्ते ने मलबे में दबे जीवित लोगों को ढ़ूंढ़ना शुरु कर दिया, और ज्यादा से ज्यादा ज़िंदगियां बचाने की कोशिश करने लगा। उसके हिम्मत की अद्भुत कहानी उसकी वफादारी और समर्पण को दर्शाती है, एक ऐसी विशेषता जिसे ढूंढ़ना बहुत मुश्किल है।

डेको के सहायक बचावकर्मी उसके बारे में बताते हुए कहते हैं कि वह बहुत मेहनती, प्यारा और वफादार मित्र था। 

©Facebook | David Valdivieso Valdivieso

7.8 तिव्रता वाले उस भूकंप ने कई लोगों को मलबे के ढ़ेर में दफन कर दिया। डेको लोगों को ढूंढ़ने की अपनी ड्यूटी अथक निभा रहा था और कई दिनों तक ज्यादा से ज्यादा लोगों को बचाने की कोशिश कर रहा था। उसने कुल सात लोगों की जान बचाई।

मानव के प्रति डेको पूरी तरह से समर्पित और प्यार करने वाला था।

©Facebook | David Valdivieso Valdivieso
©Facebook | David Valdivieso Valdivieso

ज्यादा से ज्यादा जीवित लोगों को बचाने की खोज में अचानक डेको (Dayko) बहुत थक गया। जैसा कि उसके साथी बताते हैं कि हीट स्ट्रोक की वजह से वह अचानक गिर गया। पशुचिकित्सक उसे बचाने का हर संभव प्रयास कर रहे थे लेकिन वे असफल रहे। मलबे में दबे 7 लोगों की जान बचाने के दौरान इस प्यारे और दयालु सफेद लैब्राडोर ने अपना जीवन खो दिया।

डेको थकान की वजह से गिर गया और उसे चिकित्सकीय सुविधा भी प्रदान की गई

©Facebook | David Valdivieso Valdivieso
©Facebook | David Valdivieso Valdivieso

डेको ने अपने थकान के लक्षणों पर बिल्कुल भी ध्यान नहीं दिया और अपना कर्तव्य निभाता रहा, लेकिन इस समर्पण के साथ उसने अपना जीवन भी दे दिया। फायर स्टेशन के फेसबुक पोस्ट के अनुसार, डेको की मौत बड़े कोरोनरी मायोकार्डियल इन्फ्रेक्शन (massive coronary myocardial infarction) और तीव्र श्वसन विफलता (acute respiratory failure) के कारण हुई थी, और इस प्रक्रिया में उसने अपनी जान गंवा दी।

फायर स्टेशन कर्मियों द्वारा एक उचित अंतिम संस्कार का आयोजन किया  गया।

©Facebook | David Valdivieso Valdivieso

फायर विभाग के उसके सहकर्मियों को अपने प्रिय मित्र को खोने की बात पर सहज विश्वास नहीं हो रहा था। उसे दफनाने के दौरान भी इबारा फायर स्टेशन के उसके साथी कर्मचारियों का कहना था कि, “उनके चार पैरों वाले मित्र ने ड्यूटी के दौरान अपनी जान गंवाई,”  और उसके साहसिक कार्यों के लिए लैब्राडोर का शुक्रिया।

अपने कार्य के प्रति समर्पण और हिम्मत के लिए डेको हमेशा याद किया जाएगा

©Facebook | David Valdivieso Valdivieso
©Facebook | David Valdivieso Valdivieso

कर्मचारियों के अनुसार डेको (Dayko) का अपने संचालक एलेक्स येला (Alex Yela) के साथ बहुत ही गहरा संबंध था। वह अपने अविश्वसनीय करिश्मे और अच्छी सूंघने की क्षमता के लिए जाना जाता था। अपनी खास विशेषताओं की वजह से उसने मलबे में दबे कई लोगों का पता लगाया और उनका जीवन बचाया।

डेको का उचित अंतिम संस्कार किया गया और बचावकर्मियों ने उसका शुक्रिया किया और अपने निःस्वार्थ सहयोगी जिसने ड्यूटी के दौरान कई लोगों की ज़िंदगी बचाई थी उसे अलविदा कहा। जिन लोगों को उसने बचाया वे लोग हमेशा उसे याद करेंगे और उस बहादुर और निःस्वार्थ कुत्ते के प्रति आभारी होंगे।

फायर स्टेशन कर्मी और बचाव कुत्ते ने अनमोल डेको को अलविदा कहा

©Facebook | David Valdivieso Valdivieso
©Facebook | David Valdivieso Valdivieso

डेको का वीडियो यहां देखें…

Share

वीडियो