प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने दो दिवसीय नेपाल दौरे पर रवाना होने से पहले गुरुवार को कहा कि भारत, नेपाल के साथ दोस्ताना संबंधों को उच्च प्राथमिकता देता है। मोदी का नेपाल दौरा शुक्रवार से शुरू हो रहा है।

प्रधानमंत्री के.पी. शर्मा ओली के निमंत्रण पर नेपाल के अपने दौरे का जिक्र करते हुए मोदी ने रवाना होने से पहले बयान में कहा, बतौर प्रधानमंत्री नेपाल का यह मेरा तीसरा दौरा है। यह नेपाल को लेकर भारत की उच्च प्राथमिकता और हमारे पुराने, करीबी दोस्त नेपाल के साथ निजी तौर पर मेरे जुड़ाव को दर्शाता है।

भारतीय प्रधानमंत्री का दौरा पिछले महीने ओली के भारत दौरे के बाद हो रहा है। ओली फरवरी में पद संभालने के बाद अपनी पहली विदेश यात्रा पर भारत आए थे।

मोदी ने एक बयान में कहा, “यह उच्चस्तरीय और निरंतर मुलाकातें मेरी सरकार की ‘पड़ोसी पहले’ नीति की प्रतिबद्धताओं को दर्शाती है जो सबका साथ सबका विकास के उद्देश्य के अनुरूप है।”

उन्होंने कहा, दोनों देशों ने पिछले कुछ वर्षों में एक साथ कई द्विपक्षीय संपर्क व विकास परियोजनाएं पूरी की हैं और दोनों देशों के लोगों के लाभ के लिए परिवर्तनकारी पहलों की शुरुआत की है।

मोदी ने कहा कि पिछले महीने नई दिल्ली में पारस्परिक हित के मुद्दों पर व्यापक चर्चा करने के बाद उन्हें और ओली को विभिन्न क्षेत्रों में सहकारी साझेदारी को आगे बढ़ाने का अवसर मिलेगा।

भारतीय प्रधानमंत्री ने बताया कि वे काठमांडू के अलावा जनकपुर और मुक्तिनाथ का दौरा भी करेंगे।

उन्होंने कहा, इन दोनों जगहों पर हर साल बड़ी संख्या में तीर्थयात्री आते हैं। वे भारत और नेपाल के लोगों के बीच प्राचीन और मजबूत सांस्कृतिक व धार्मिक संबंधों के प्रत्यक्ष गवाह हैं।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds