मध्य प्रदेश द्वारा सुव्यवस्थित वेबसाइट, फिल्म के अनुकूल बुनियादी संरचनाएं व अन्य सुविधाएं विकसित करते हुए फिल्मांकन को बढ़ावा देने के प्रयास के लिए राज्य को ‘सर्वाधिक फिल्म अनुकूल राज्य का पुरस्कार’ दिया गया।

पत्र सूचना कार्यालय के मुताबिक, इस पुरस्कार की घोषणा ज्यूरी के चेयरमैन व फिल्म निर्माता रमेश सिप्पी ने गुरुवार को की। इससे पहले गुजरात व उत्तर प्रदेश को यह सम्मान मिल चुका है।

यह पुरस्कार राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा 3 मई को 65वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार वितरण के दौरान प्रदान किया जाएगा।

सिप्पी ने कहा, ज्यूरी के सदस्य उत्तर प्रदेश व गुजरात के अपने राज्यों में फिल्म अनुकूल पारितंत्र बनाने के जारी प्रयासों की सराहना करते हैं और आशा करते हैं कि वे अपना अच्छा कार्य जारी रखेंगे।

उन्होंने कहा, इस वर्ष मध्य प्रदेश ने अपने यहां फिल्मांकन आसान करके यह पुरस्कार जीता है। मध्य प्रदेश ने बेहतरीन बुनियादी सहयोग व फिल्मांकन ढांचा, एक सूचनाप्रद वेबसाइट के साथ फिल्म निर्माण के लिए प्रोत्साहन की पेशकश कर रहा है। राज्य में विगत कई सालों से बहुत से फिल्म निर्माताओं ने फिल्मांकन किया है।

मध्य प्रदेश ने दिल्ली सहित 16 अन्य राज्यों को पछाड़ कर यह सम्मान जीता है।

उत्तराखंड राज्य को अपने यहां फिल्म अनुकूल परिदृश्य सुनिश्चित करने की दिशा में किए गए उल्लेखनीय प्रयासों को ध्यान में रखते हुए ‘विशेष उल्लेख प्रमाणपत्र’ प्रदान किया गया है।

Share

वीडियो

Ad will display in 09 seconds