आर्थिक आधार पर आरक्षण की मांग को लेकर मंगलवार को सोशल मीडिया द्वारा बुलाए गए एकदिवसीय भारत बंद का बिहार में मिलाजुला असर दिखा। बंद समर्थकों द्वारा सड़क मार्ग अवरुद्ध कर देने के कारण यातायात पर भी इसका असर पड़ा। बंद के मद्दनेज़र राज्य में सुरक्षा के पुख्ता इंतज़ाम भी किए गए थे।

समाचार एज़ेंसी आईएएनएस की खबर अनुसार, यह बंद एससी-एसटी आरक्षण के विरोध में तथा आर्थिक आधार पर आरक्षण देने की मांग को लेकर बुलाया गया। बिहार के कई क्षेत्रों में बंद समर्थक सुबह से ही सड़क पर उतर गए। आरा में बंद समर्थकों ने सड़क और रेल मार्ग जाम कर प्रदर्शन किया। इसके अलावा दरभंगा, जहानाबाद, बेगूसराय में भी बंद समर्थकों ने सड़क पर उतरकर प्रदर्शन किया। सीतामढ़ी जिले के रुन्नीसैदपुर टोल प्लाजा के पास भी बंद समर्थक सड़क पर उतरे और सड़क जाम किया।

बिहार की राजधानी पटना में बंद समर्थकों ने सड़क जामकर प्रदर्शन किया। खबरों के मुताबिक बंद समर्थकों का कहना है कि सभी जातीय समूहों में निर्धन लोग शामिल हैं। ऐसे में आरक्षण आर्थिक आधार पर लागू किया जाना चाहिए। इस बीच बंद को देखते हुए राजधानी पटना के अधिकांश निजी स्कूलों को बंद रखा गया है।

बंद के दौरान किसी भी तरह की अनहोनी से निपटने के लिए प्रशासन भी पूरी तरह से मुस्तैद दिखी। खबरों के अनुसार राज्य के सभी संवेदनशील और प्रमुख शहरों में पुलिस बल तैनात की गई थी।

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds