भाई-बहनो के रिश्तों में अपनापन, प्यार और एक-दूसरे के लिए सम्मान हमेशा बना रहता है। चाहे वह पास रहे या दूर, इनके बीच का प्यार इन्हें हमेशा जोड़े रखता है। यहाँ तक कि जीवन में अगर कोई मुश्किलें आती हैं तो सबसे पहले यही रिश्ता मजबूती से साथ देता है। बॉलीवुड हस्तियां भी इन बातों से अछूती नहीं हैं। वे भी अपने भाई और बहनों को बेहद प्यार करते हैं। ऐसी ही एक बहनों की जोड़ी है दीपिका पादुकोण और अनिशा पादुकोण की। 

Image may contain: 2 people, people smiling, people standing, sunglasses and outdoor

दीपिका पादुकोण का अपनी छोटी बहन अनिशा पादुकोण के साथ रिश्ता भी कुछ ऐसा ही है। जब कुछ साल पहले दीपिका मुश्किल दौर से गुज़र रही थीं तो अनिशा ही थीं जो हमेशा दीपिका के साथ हर कदम पर खड़ी रहीं।

me and my little…coz sisters are the bestest!!!❤️ ? @ranveersingh

A post shared by Deepika Padukone (@deepikapadukone) on

बॉलीवुड शादी ( Bollywood Shaadis) के अनुसार न्यूज़ 18 को दिए साक्षात्कार में पहली बार अनिशा ने अपने और दीपिका के मुश्किल दौर का खुलासा किया। एक वैश्विक सामाजिक प्रभावक की उनकी भूमिका के कारण उन्हें लगा कि इस कहानी को सबके सामने लाना बहुत ही जरूरी हैं। इस तरह के विशेष मुद्दे पर बातचीत कर उन्होंने अपना योगदान दिया।

अनिशा बताती हैं ,”जब दीपिका दुखी थीं तो मेरे लिए यह बहुत ही मुश्किल दौर था। क्योंकि मुझे मानसिक पीड़ितों,  और वो भी जो मेरी खुद की बहन हो उसकी देखभाल कैसे करूँ, इसके बारे में कुछ पता नहीं था। और इसका असर हमारे परिवार पर पड़ रहा था। मेरे पास इसके बारे में कुछ भी जानकारी नहीं थी जिससे मैं इसे सीखकर खुद को मदद के काबिल बना सकूं। एक समय ऐसा आया जब मैं खुद को असहाय महसूस करने लगी। तब मेरी माँ को भी लगा कुछ गलत हो रहा है। तो फिर हमने एक सलाहकार से संपर्क किया जो हमारे पारिवारिक मित्र थे और उसके बाद सब सही होने लगा।”

Image may contain: 2 people, people smiling, people standing

बात को आगे बढ़ाते हुए अनिशा कहती हैं, “दीपिका और मुझमें पांच साल का अंतर है। इसके कारण वे मेरे लिए एक दोस्त और एक माँ, दोनों की तरह हैं। बड़ी बहन की तरह दीपिका भी मेरे लिए बहुत सुरक्षात्मक हैं। हालाँकि हम बेहद करीब हैं लेकिन काम की वजह से हम दो-तीन महीने में मिलते हैं। हम एक दूसरे के काम के बारे में ज्यादा चर्चा नहीं करते लेकिन जब मैं उनकी फिल्मों के बारे में बात करती हूं तो मैं उनकी बहुत बड़ी आलोचक हूँ। मैं उनकी सभी फ़िल्में देखती हूं और उन्हें अपनी राय आ रही हूँ कि मुझे क्या पसंद आया और क्या नहीं। मैं कहती हूँ, ‘आप इसे और बेहतर कर सकती थीं या यह मुझे बिल्कल पसंद नहीं आया।’ बेशक मैं भी एक दर्शक के नज़रिये से उन्हें बताती हूं क्योंकि मैं कोई फिल्म विशेषज्ञ नहीं हूं। मैं बहुत आलोचना करती हूं लेकिन दीपिका हमेशा मेरी बातों को बहुत ही सकारत्मक रूप से लेती हैं।”

Image may contain: 5 people, people smiling, people standing

जब दीपिका अपने उस बुरे दौर से बाहर आयीं तो उसके बाद अनिशा ने इसके बारे में लोगों में जागरूकता फ़ैलाने की शुरुआत की। अनिशा कहती हैं, “एक परिवार के रूप में सभी को एक दूसरे की मदद करनी चाहिए। आपको यह जानकर ख़ुशी होगी जब आपने किसी को उनके दुःख से बाहर निकाला। यह कितना मीठा अहसास है कि आप लोगों का जीवन बचाने में मदद कर रहे हो।”

Share

वीडियो