सामाजिक अंधविश्वास पर फिल्म बनाने वाले अक्षय कुमार ने सामाजिक जागरूकता के लिए कई सारी रूढ़िवादी समस्याओं को दूर करने हेतु कम बजट की फिल्मों में काम किया है। इसके अलावा उन्होंने कई देशभक्ति फिल्मों में भी काम किया है। एक बार फिर से अक्षय समाज के उस तबके को जिसे किसान कहते हैं, उनकी समस्याओं को उठाते नजर आएँगे।

 

Look #Akshaykumar

A post shared by Akshay Kumar (@akshaykumarfanbase) on

नवभारत टाइम्स की एक खबर के अनुसार, मुंबई में आयोजित न्यू इंडिया कॉन्क्लेव प्रोग्राम में अक्षय पहुँचे। इस प्रोग्राम के दौरान उन्होंने बताया कि वे अब किसानों और और गाँव के विषय पर फिल्म बनाने की सोच रहे हैं।

न्यू इंडिया कॉन्क्लेव प्रोग्राम के दौरान अपने बयान में उन्होंने कहा कि, “मेरा मानना है कि हमारा गाँव हमें संस्कृति सिखाता है। गाँव एक पिता की तरह है और शहर किसी बेटे की तरह। बेटे की जिम्मेदारी है कि वे पिता के काम आए और उनकी सेवा करे। मेरा भी गाँव के किसान के इस प्रोग्राम में आने का कारण यही है कि मैं उनकी सेवा कर सकूँ। लोगों का मानना है कि जीनियस लोग शहरों से आते हैं लेकिन मेरा मानना है कि सबसे ज्यादा जीनियस लोग गाँव से आते हैं।”

 

अक्षय आगे कहते हैं कि, “मैं एक ऐसा इंसान हूँ जो किसी समस्या पर बात करना नहीं चाहता बल्कि समस्या को सुलझाने और उसपर काम करने में विश्वाश रखता हूँ  । यहाँ तक कि मैं जिन फिल्मों में मैं काम करता हूँ उसमें भी मैं समस्याओं के बारे में बात नहीं करता।”

Share

वीडियो

Ad will display in 10 seconds