‘मिसाइल वुमन’ टेसी थॉमस ने अपनी मेहनत और लगन से पुरुष-प्रधान क्षेत्र में बनाई ‘अग्नि पुत्री’ के रूप में पहचान!

‘मिसाइल वुमन’ टेसी थॉमस ने अपनी मेहनत और लगन से पुरुष-प्रधान क्षेत्र में बनाई ‘अग्नि पुत्री’ के रूप में पहचान!

एक ऐसा क्षेत्र, जहां महिलाएं सशक्तिकरण की राह पर हैं और अपने पक्ष की मजबूत दावेदारी दिखा रही हैं। यह क्षेत्र है देश की सुरक्षा। जी हां, देश की सुरक्षा सबसे अहम होती है, तो इस क्षेत्र में आखिर महिलाओं ...

भारत में चिपको आंदोलन के माध्यम से, तो जर्मनी में कुछ इस तरह लोगों ने पेड़ों को कटने से बचाया!

भारत में चिपको आंदोलन के माध्यम से, तो जर्मनी में कुछ इस तरह लोगों ने पेड़ों को कटने से बचाया!

“क्या है जंगल के उपकार, मिट्टी, पानी और बयार। मिट्टी पानी और बयार ज़िंदा रहने के आधार।।” 1973 में इस नारे के साथ शुरु हुए “चिपको आंदोलन” ने प्रशासन से लेकर पेड़ काटने वालों तक के हाथ-पांव फुला दिए थे ...

रविन्द्र जैन: जन्म से नेत्रहीन होने के बावजूद, दृढ़ शक्ति से संगीत जगत के महान संगीतकार बने!

रविन्द्र जैन: जन्म से नेत्रहीन होने के बावजूद, दृढ़ शक्ति से संगीत जगत के महान संगीतकार बने!

आज हम आपको एक ऐसे प्रेरणादायक व्यक्ति के जीवन के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने अपनी दृढ़ शक्ति से संगीत जगत में स्वर्णिम अक्षरों में अपना नाम लिखवा लिया। उस संगीतकार का नाम है, रविन्द्र जैन (Ravindra Jain)। ये ...

पेट्रीशिया नारायण का 50 पैसे से प्रतिदिन 2 लाख रुपए का सफ़र नहीं था आसान लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी!

पेट्रीशिया नारायण का 50 पैसे से प्रतिदिन 2 लाख रुपए का सफ़र नहीं था आसान लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी!

पैट्रिशिया ने कभी सोचा नहीं था कि बच्चों की परवरिश की खातिर उन्हें घर से बाहर निकलकर काम करना पड़ेगा। लेकिन कुछ ऐसा हुआ कि उन्हें वह सब करना पड़ा जिसकी उन्होंने कभी कल्पना भी नहीं की थी और इतनी कठिनाइयों ...

पुरुषवादी इस समाज में एक पुरूष ने “माहवारी” के प्रति नजरिए को बदला और एक क्रांति की शुरूआत की।

पुरुषवादी इस समाज में एक पुरूष ने “माहवारी” के प्रति नजरिए को बदला और एक क्रांति की शुरूआत की।

एसी रूम, कांटा चम्मच से खाना, बड़ी गाड़ियों में घूमना या फिर जलती धूप में गाँव-गाँव घूमना, नहर-नदी पार कर लोगों को उनके अधिकार और महिलाओं को स्वास्थ्य संबंधी जागरूकता के प्रति रूबरू कराना। ऐसी ही कहानी है मंगेश झा ...

सुधा चंद्रन: कृत्रिम पैर लगने के बावजूद भी हौसलों की उड़ान में कमी नहीं आई, पूरे किये अपने सपने!

सुधा चंद्रन: कृत्रिम पैर लगने के बावजूद भी हौसलों की उड़ान में कमी नहीं आई, पूरे किये अपने सपने!

जो लोग ठान लेते हैं, वे एक न एक दिन सफलता जरूर प्राप्त कर लेते हैं। सफलता प्राप्त करने के बाद इंसान उस दुनिया में पहुँच जाता है जिस दुनिया के वो अक्सर ख्वाब देखा करता था। बहुत कम ऐसे लोग ...

शहीद भगत सिंह द्वारा कही गई ऐसी 10 बातें जो आज भी लोगों में देशभक्ति का जज़्बा जगाने में सक्षम हैं!

शहीद भगत सिंह द्वारा कही गई ऐसी 10 बातें जो आज भी लोगों में देशभक्ति का जज़्बा जगाने में सक्षम हैं!

आज हम जिस आज़ादी  के साथ सुख-चैन की ज़िंदगी गुज़ार रहे हैं, वह असंख्य जाने-अनजाने देशभक्त शूरवीर क्रांतिकारियों के असीम त्याग, बलिदान एवं शहादतों की नींव पर खड़ी है। ऐसे ही अमर क्रांतिकारियों में शहीद भगत सिंह शामिल थे, जिनका ...

सिएटल स्थित भारतीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने फालुन दाफा ध्यान में जीवन के ‘गुप्त कोड’ की खोज की

सिएटल स्थित भारतीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर ने फालुन दाफा ध्यान में जीवन के ‘गुप्त कोड’ की खोज की

दुनिया की सबसे बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनियों में से एक में, एक भारतीय मूल के वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर तकनीकी स्थितियों के समाधान ढूंढ निकालने का काम करते हैं। उन्होंने प्रतिष्ठित कोलंबिया विश्वविद्यालय (Columbia University) से पीएच.डी. (Ph.D.) की डिग्री प्राप्त की है और ...

23 मार्च, ‘शहीद दिवस’ के अवसर पर आज़ादी के लिए प्राण त्यागने वाले शहीदों को श्रधांजलि!

23 मार्च, ‘शहीद दिवस’ के अवसर पर आज़ादी के लिए प्राण त्यागने वाले शहीदों को श्रधांजलि!

भारत में “शहीद दिवस” (Martyrs’ Day) उन लोगों को श्रद्धांजलि देने के लिये मनाया जाता है जिन्होंने भारत की आज़ादी, कल्याण और प्रगति के लिये लड़ते हुए अपनी जान दे दी। शहीद दिवस को सर्वोदय दिवस भी कहा जाता है। भारत ...

80 वर्षीय कर्नल एक सरल ध्यान अभ्यास से अपने अतिदुःखी जीवन को परिवर्तित कर देते हैं!

80 वर्षीय कर्नल एक सरल ध्यान अभ्यास से अपने अतिदुःखी जीवन को परिवर्तित कर देते हैं!

एक व्यक्ति का जीवन एक संगीत सिम्फनी के समान है। समय-समय पर— निचले नोट्स और उच्च नोट्स, तेज गति और धीमी गति—को महसूस करने का अनुभव होता है। लोग अक्सर सतह पर खुश और संतुष्ट लगते हैं, लेकिन वास्तविकता में, उनपर ...