भारत की श्रीलक्ष्मी सुरेश दुनिया की सबसे छोटी सीईओ, आज हैं दो कंपनियों की मालकिन!

भारत की श्रीलक्ष्मी सुरेश दुनिया की सबसे छोटी सीईओ, आज हैं दो कंपनियों की मालकिन!

भारतीय प्रतिभा का लोहा पूरी दुनिया मानती है। दुनिया की कई बड़ी-बड़ी कंपनियों में भारतीय मूल के सीईओ (CEO) हैं। इनमें माइक्रोसॉफ्ट, गूगल और पेप्सिको जैसी दिग्गज कंपनियां भी शामिल हैं लेकिन हम यहां आपको एक ऐसी युवा प्रतिभा के ...

ये 65 वर्षीय वृद्ध भारतीय पुलिस अकादमी में अध्यात्मिक स्वास्थ्य और शांति का संदेश पहुंचा रहे हैं

ये 65 वर्षीय वृद्ध भारतीय पुलिस अकादमी में अध्यात्मिक स्वास्थ्य और शांति का संदेश पहुंचा रहे हैं

इसकी शुरुआत वर्ष 2007 में तब हुई थी जब पी. सुब्रमण्यम (P. Subrahmanyam), जो अब 65 वर्ष के हैं, अपने बेटे से मिलने के लिए हैदराबाद से न्यूज़ीलैंड (New Zealand) गए थे। अपने परिवार, एवं मित्रों द्वारा प्यार से सुब्रा ...

विल्मा रुडोल्फ दिव्यांगता से ओलंपिक्स का सफ़र तय करके अन्य लोगों के लिए बनी प्रेरणादायक मिसाल!

विल्मा रुडोल्फ दिव्यांगता से ओलंपिक्स का सफ़र तय करके अन्य लोगों के लिए बनी प्रेरणादायक मिसाल!

सफल व्यक्ति अपनी सफलता समस्याओं की अनुपस्थिति में नहीं बल्कि उनके विरुद्ध अर्जित करते हैं। अपनी बदहाली को पीछे छोड़कर कामयाबी के शिखर को छूने वाले लोगों की कहानियां वास्तव में प्रेरणास्पद होती हैं। ऐसे व्यक्तियों की जीवनियाँ और आत्मकथाओं को ...

मुंबई के इस चाय वाले की कहानी असल मायने में खुशी का मतलब समझाती है!

मुंबई के इस चाय वाले की कहानी असल मायने में खुशी का मतलब समझाती है!

हर इंसान के जीवन में खुशियों के अलग-अलग मायने होते हैं। किसी के लिए परिवार का साथ मायने रखता है, तो कोई लग्ज़री लाइफ में खुश रहता है। लेकिन मुंबई के इस चाय वाले की कहानी आपको असल मायने में ...

बिना हाथ-पैरों के जन्मे निकोलस वुजिसिक की ज़िंदगी से जंग की कहानी सचमुच प्रेरणादायक है!

बिना हाथ-पैरों के जन्मे निकोलस वुजिसिक की ज़िंदगी से जंग की कहानी सचमुच प्रेरणादायक है!

जब कभी हमारी ज़िन्दगी में समस्याएँ या मुश्किलें आतीं हैं तो हम में से ज्यादातर लोग सोचते हैं कि ऐसा मेरे साथ ही क्यों हो रहा है? यही सोच धीरे-धीरे हमारे अन्दर घोर निराशा पैदा करके हमारी ज़िन्दगी को एक ...

कैंसर के कारण जवान युवती ने अपनी आवाज़ खो दी, लेकिन एक चमत्कार हुआ जब यह निर्णय लिया

कैंसर के कारण जवान युवती ने अपनी आवाज़ खो दी, लेकिन एक चमत्कार हुआ जब यह निर्णय लिया

उत्तरी वियतनाम (Vietnam) के है डुओंग (Hai Duong) से सुश्री होआंग हा (Ms. Hoang Ha) ने अपनी सारी पूँजी अपने कैंसर के इलाज को दूर दूर तक ढूँढने में व्यर्थ ही खर्च कर दी। बाद में चार साल और तीन सर्जरी के ...

सब्ज़ी बेचकर गरीबों के लिए अस्पताल बनवाने वाली सुभाषिनी मिस्त्री की कहानी आपको प्रेरणा से भर देगी!

सब्ज़ी बेचकर गरीबों के लिए अस्पताल बनवाने वाली सुभाषिनी मिस्त्री की कहानी आपको प्रेरणा से भर देगी!

अपने लिए तो पूरी दुनिया जीती है लेकिन जो दूसरों के लिए जीता है वही सच्चा इंसान होता है। यदि हम आपको बताएं कि गरीबी रेखा पर रहकर जीवन यापन करने वाली एक महिला ने सब्जी बेचकर एक अस्पताल का ...

₹150  की कमाई करने वाले दंपति ने खोला इंसानियत बैंक, जरुरतमंदों की सेवा के लिए सदैव रहते हैं तत्पर!

₹150 की कमाई करने वाले दंपति ने खोला इंसानियत बैंक, जरुरतमंदों की सेवा के लिए सदैव रहते हैं तत्पर!

आज के इस दुनिया में जहां परछाई भी अपना साथ छोड़ देती है, ऐसे युग में एक दंपति ऐसे भी हैं, जो तन-मन-धन से लोगों की सेवा करने में लगे हैं। चाय की दुकान और रिक्शे की बदौलत गुजर-बसर करने ...

‘मांझी’ फिल्म के ये 5 डायलॉग छात्रों को लक्ष्य प्राप्ति और जीत की भावना जागृत करने के लिए प्रेरित करेंगे!

‘मांझी’ फिल्म के ये 5 डायलॉग छात्रों को लक्ष्य प्राप्ति और जीत की भावना जागृत करने के लिए प्रेरित करेंगे!

कहते है फ़िल्में जिंदगी का सार होती हैं । छोटे-छोटे किस्से और कहानियों पर बनी फिल्में हमारी जिंदगी जीने के तरीके को बदल देती हैं। फ़िल्म जितनी काल्पनिक होती है उतनी ही वास्तविकता के करीब भी होती है जिससे हर इंसान ...

संसाधनों से जूझते हुए भी मरीज़ों की सेवा करने में लगे हैं गाज़ा के अस्पताल!

संसाधनों से जूझते हुए भी मरीज़ों की सेवा करने में लगे हैं गाज़ा के अस्पताल!

नेक दिल इंसान किसी भी परिस्थितियों में लोगों की सेवा करना नहीं छोड़ता। गाज़ा के अस्पताल कुछ ऐसी ही विषम परिस्थितियों से जूझते हुए लोगों को अपनी सेवा दे रहे हैं। अल्जज़िरा की एक खबर की माने तो अल्प संसाधन ...